गणेश जी के बारह नाम करेंगे आपकी निर्धनता को दूर

भगवान गणेश जी हिन्दू धर्म में प्रथम पूज्यनीय देवता माने जाते हैं तथा पांच प्रमुख देवताओं में भी गणेश जी का नाम शामिल किया गया है। गणेश जी की पूजा आराधना करने से जीवन में सुख-समृद्धि की प्राप्ति होती है आज हम प्रसिद्ध ज्योतिषाचार्य के. एम. सिन्हा जी द्वारा जानेंगे कि गणेश जी के बारह नाम क्यों इतने महत्वपूर्ण है। भगवान गणेश जी के बारह नामों का सुमिरन करने से शिक्षा, अध्ययन, विवाह, यात्रा, रोजगार के शुभारंभ या अन्य किसी भी क्षेत्र में परेशानी आ रही हो तो दूर हो जाती है।

गणेश जी के बारह नाम

समुख, एकदंत, कपिल, गजकर्णक, लम्बोदर, विकट, विघ्ननाश, विनायक, धूम्रकेतु, गणाध्यक्ष, भालचन्द्र, गजानन। भगवान गणेश जी के बारह नामों का जाप करने से जीवन में सभी प्रकार के कष्टों से मुक्ति मिलती है।

भगवान गणेश जी का प्रसद्धि श्लोक

विद्यार्थी लभते विद्यां, धनार्थी लभते धनम्।
पुत्रार्थी लभते पुत्रान्, मोक्षार्थी लभते गतिम्।।

प्रस्तुत श्लोक के अनुसार भगवान गणेश जी के नामों का पाठ करने से विद्या प्राप्ति की इच्छा रखने वाले को विद्या, धन चाहने वाले को धन तथा पुत्र चाहने वालो को पुत्र एवं मोक्ष चाहने वाले को मोक्ष की प्राप्ति होती है।

यह भी पढ़ेंः- क्यों मिला गणेश जी को हाथी का सिर, क्यों प्रथम पूज्यनीय हैं गणेश जी

शिक्षा में मिलेगी अपार सफलता

भगवान गणेश जी को बुद्धि का देवता माना जाता है अच्छी शिक्षा एवं बुद्धि की प्राप्ति के लिए भगवान गणेश जी की आराधना करनी चाहिए। श्री गणेश अंक के अनुसार किसी भी मनुष्य को अच्छी शिक्षा पाने के लिए भगवान गणेश जी के बारह नामों का जप करना चाहिए। यदि प्रतिदिन गणेश जी के बारह नामों का जप किया जाए तो गणेश जी की सदैव कृपा बनी रहती है और हमारी सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती है।

READ ALSO   सुख और वैभव देने वाले शुक्र ग्रह का राशि परिवर्तन, जानिए ज्योतिष में शुक्र ग्रह का महत्व और 12 राशियों पर प्रभाव
योग्य संतान प्राप्ति के लिए

गणेश जी के बारह नाम करेंगे आपकी निर्धनता को दूर 1

भगवान गणेश जी की महिमा से हम भली-भाँति परिचित है। यदि संतान सम्बन्धित कोई परेशानी हो तो गणेश जी बारह नामों का जाप अवश्य करें क्योंकि गणेश जी के उन नामों को सबसे शक्तिशाली, प्रभावशाली एवं दिव्य माना गया है। संतान प्राप्ति की इच्छा रखने वाले दम्पत्ति को प्रतिदिन सुबह-शाम श्रद्धापूर्वक गणेश जी के नामों का जाप करना चाहिए। इससे आपकी सभी मनोकामना पूर्ण होगी।

धन प्राप्ति के लिए

भगवान गणेश जी को बुद्धि के देवता के साथ-साथ सुख-समृद्धि का देवता भी माना जाता है। यदि धन सम्पत्ति सम्बन्धित कोई परेशानी हो तो गणेश जी के बारह नामों का जाप अवश्य करें ऐसा करने से निर्धनता दूर होती है तथा घर-परिवार में सुख-समृद्धि बनी रहती है।

मोक्ष प्राप्ति के लिए

भगवान गणेश जी को सभी देवी-देवताओं में प्रथम पूज्यनीय देवता माना जाता है। इसलिए किसी भी काम की शुरुआत करने से पहले गणेश जी की आराधना की जाती है। गणेश जी की आराधना करने से मोक्ष की प्राप्ति होती है तथा पापों से मुक्ति मिलती। अतः भगवान गणेश जी के बारह नाम का जप करने से मनुष्य पृथ्वी पर सभी सुख भोगता है।