जाने वर्ष 2023 में शनि का राशि परिवर्तन चमकायेगा किन राशियों की किस्मत ?

वर्ष 2023 में शनि 17 जनवरी को कुंभ राशि में राशि परिवर्तन कर रहे है और यह परिवर्तन बहुत महत्वपूर्ण है। शनि ग्रह के परिवर्तन से किन राशियों का भाग्य उदय होगा आइये हम इसे विस्तार से समझते है-

शनि ग्रहः- हमारे ज्योतिष शास्त्र में शनि ग्रह को मन्द गति से चलने वाला ग्रह माना जाता है। वर्ष 2023 में शनि अपनी ही राशि मकर राशि में परिवर्तन करने जा रहे है। जिसका प्रभाव सभी राशियों पर पड़ेगा, कुछ राशि वालो पर शनि की महादशा समाप्त हो जायेगी तथा साढेसाती से भी राहत मिलेगी। 4 राशियों के लिए यह राशि परिवर्तन भाग्यशाली साबित होगा जो इस प्रकार है।

वृषभ राशिः-शनि वृषभ राशि के दशम भाव में गोचर करेंगे और यह गोचर इस राशि के जातकों के लिए अच्छा साबित होगा। शनि इस राशि की कुण्डली में भाग्य भाव को प्रभावित कर रहा था। जिसके फलस्वरुप भाग्य उदय में रुकावट आ रही थी। परिश्रम के बावजूद भी लाभ नही प्राप्त हो रहा था परन्तु जनवरी माह में कुंभ राशि मे गोचर करते ही शनि देव का प्रकोप समाप्त हो जायेगा। आपके कार्यों में आपको सफलता मिलेगी। आर्थिक पक्ष में भी सुदृढता आयेगी तथा पुरानी कई समस्याओं से आपको छुटकारा मिलेगा।

मिथुन राशिः- मिथुन राशि के कुण्डली में शनि भाग्य भाव मे गोचर करेंगे जिससे जिन जातकों पर शनि की साढे साती चल रही थी। उनके भाग्य में वृद्धि होगी व्यापार एवं नौकरी में उन्नति के योग बनेंगे। यदि आप लम्बे समय से किसी रोग से पीड़ित थे तो उससे आपको राहत मिलेगी। परिवार मे चल रहा मतभेद खत्म होता नजर आयेगा।

तुला राशिः- तुला राशि के कुण्डली में शनि पंचम भाव मे गोचर करेंगे जिसके फलस्वरुप तुला राशि के जातकों को शनि साढे साती से मुक्ति मिलेगी। परिवार में सुख-समृद्धि का आगमन होगा। नौकरी में उन्नति के योग बनेंगे।व्यवसाय में विस्तार के नए मार्ग खुलेंगे तथा साझेदारी से भी लाभ प्राप्त करेंगे। स्वास्थ्य मे सुधार होगा साथ ही रुके हुए कार्यों मे भी आपको सफलता प्राप्त होगी।

धनु राशिः- धनु राशि के जातकों की कुण्डली शनि पराक्रम भाव मे गोचर करेंगे तनाव एवं मानसिक परेशानियों से आपको राहत मिलेगी तथा लम्बे समय से चल रहे साढे़ साती की समस्या से भी आपको छुटकारा मिलेगा। लम्बे समय से रुके हुए कार्यों मे आपको सफलता मिलेगी। नौकरी में पदोन्नति की सम्भावना है परन्तु परिवार के सेहत का विशेष ध्यान रखें।