बुध का बीज मंत्र, लाभ

बुद्धि के देवता बुध ग्रह का दिन है बुधवार। बुध राशि के जातक बहुत सुंदर होते हैं। बुध को नवग्रहों में राजकुमार की उपाधि प्राप्त है। उनका शरीर अति सुंदर और छरहरा है। वह ऊंचे कद गोरे रंग के हैं। उनके सुंदर बाल आकर्षक हैं वह मधुरभाषी हैं।

बुध बीज मंत्र के लाभ

बुध, जिसे बुद्ध के नाम से जाना जाता है, ‘बुद्धि’ – बुद्धि का प्रतिनिधित्व करता है, जबकि चंद्रमा (चंद्र) निर्दोष मन का प्रतीक है।
बुध एक कारक या बुद्धि, वाणिज्य, शिक्षा, लेखन, किताबें, हास्य, विद्वान, वक्ता, वकील और सलाहकार का सूचक है।
बुद्ध का अर्थ संस्कृत में बुद्धिमान, चतुर, या बुद्धिमान व्यक्ति है। यह उन नौ गृहों में से एक का नाम भी है, जिनकी गति मनुष्यों के साथ-साथ राष्ट्रों और मौसम की स्थिति को प्रभावित करती है, जो कि वैदिक ज्योतिष के रूप में ज्ञात दिव्य विज्ञान का विषय है।
मंत्र व्यापार, वाणिज्य, खेल, सिनेमा और अन्य कलात्मक गतिविधियों में मदद करता है।

बुध का बीज मंत्र 108

ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः
ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः