बुध का राशि परिवर्तन (24 जून)

बुधः- हमारे ज्योतिष शास्त्र में बुध को धन, बुद्धि एवं वाणी का कारक माना गया है। यदि कुण्डली में बुध मजबूत हो तो जातक को बोलने की कला अच्छी होती है। वह विनम्र एवं शांत स्वभाव का होता है परन्तु यदि यही बुध खराब स्थिति में हो तो त्वचा रोग, हकलका के बोलना, ऐसी परिस्थितियों का सामना कर सकते है। नये वर्ष में बुध का राशि परिवर्तन 24 जून दिन शनिवार को हो रहा है। इस वर्ष बुध मिथुन राशि में गोचर करेंगे तो आइयें हम प्रसिद्ध ज्योतिषाचार्य के.एम. सिन्हा जी के द्वारा समझते है कि सभी राशियों पर इसका क्या प्रभाव पड़ेगा:-

मेष लग्नः- आपकी कुण्डली मेें बुध का राशि परिवर्तन लग्न भाव में हो रहा है। आपकी वाणी में उग्रता आ सकती है जिसका प्रभाव आपके वैवाहिक जीवन पर भी पड़ सकता है इसलिए जितना हो सके विनम्र स्वभाव बनाए रखें। शारीरिक रुप से थोड़ा कमजोर महसूस करेंगे। कई कार्यों मे आपको अचानक से परिणाम देखने को मिल सकते है तथा वैवाहिक जीवन के लिए यह समय अच्छा नही रहेगा। संतान पक्ष का सहयोग मिलेगा एवं प्रेम-प्रसंग मे मधुरता बनी रहेगी। सहकर्मियों का साथ प्राप्त होगा। भौतिक सुख-सुविधाओं में आपको परेशानियां महसूस होंगी। छोटे भाई-बहनों का साथ प्राप्त होगा। आमदनी के अच्छे अवसर प्राप्त होंगे तथा तकनीकी के कार्यों मे आपको लाभ प्राप्त होगा। लम्बी दूरी की यात्राओं के योग बन रहें एवं आपके खर्चों मे बढ़ोत्तरी होगी।
उपायः- पांच प्रकार के अनाजों को मिलाकर दान करें, आपको परेशानियों से राहत मिलेगी।

वृष लग्नः- आपकी कुण्डली में बुध का राशि परिवर्तन द्वादश भाव में हो रहा है। शारीरिक रुप से आप ऊर्जावान अनुभव करेंगे लेकिन गले से सम्बन्धित थोड़ी बहुत परेशानी बन सकती है साथ ही परिवार को भी कष्ट मिल सकता है। छोटे भाई-बहनों के साथ कुछ मतभेदों के बाद मधुर संबंध रहेंगे तथा आपका पराक्रम बढ़ा-चढ़ा रहेंगे। कार्य-व्यवसाय के क्षेत्र में आपको सफलता मिलेगी एवं समाज मे मान-सम्मान बढ़ेगा। भौतिक सुख-सुविधाओं की प्राप्ति होगी। पिता का सहयोग आपको कई कार्यों मे सफलता दिलायेगा। आपके गुप्त शत्रु आपको हानि पहुंचाने की कोशिश कर सकते है परन्तु अपने बुद्धि-विवेक से उनका सामना करने मे समर्थ रहेंगे। जीवनसाथी के साथ रिश्तों मे उतार-चढ़ाव की स्थिति बनी रहेंगी।
उपायः- प्रतिदिन सूर्यदेव को जल दें, आपके कार्यों मे सफलता मिलेगी।

मिथुन लग्नः- आपकी कुण्डली में बुध का राशि परिवर्तन एकादश भाव में हो रहा है। धार्मिक कार्यों मे आपकी रुचि बढ़ेगी। शारीरिक रुप से आप ऊर्जावान अनुभव करेंगे परन्तु गले से सम्बन्धित थोड़ी बहुत परेशानी बन सकती है तथा आपकी वाणी में भी उग्रता आ सकती है जिसके कारण पारिवारिक माहौल खराब हो सकता है। विद्यार्थियों को शिक्षा के क्षेत्र में अच्छे परिणाम देखने को मिल सकते है। इस समय के दौरान गर्भवती महिलाओं को अपना विशेष ध्यान रखना होगा। संतान पक्ष को कष्ट मिल सकता है। आपके खर्चों मे बढ़ोत्तरी हो सकती और आपकी यात्राएं भी अधिक रहेंगी । आमदनी के अवसर मिलेंगे सुख-सुविधाओं की वस्तुओं मे बढ़ोत्तरी होगी एवं भूमि, वाहन से लाभ प्राप्त होेगा।
उपायः- गणेश जी की आराधना के साथ-साथ नारंगी रंग की वस्तुओं का दान करें।

कर्क लग्नः- आपकी कुण्डली में बुध का राशि परिवर्तन द्वादश भाव में हो रहा है। यह राशि परिवर्तन आपको सामान्य परिणाम देगा। कार्य-व्यवसाय के क्षेत्र में आप पराक्रमी रहेंगे। भूमि, वाहन से सम्बन्धित कार्यों मे कुछ रुकावटें उत्पन्न हो सकते है जिसके कारण धन का खर्च बढ़ा-चढ़ा रहेगा। बाहरी स्त्रोंतो से आमदनी के अच्छे अवसर प्राप्त होंगे। संतान पक्ष का सहयोग मिलेगा। कार्य-व्यवसाय को लेकर आप अत्यधिक परिश्रम कर सकते है जिसका लाभ आपको विलम्ब से प्राप्त होगा। पुरातत्व से सम्बन्धित कार्यों मे आपको सफलता मिलेगी। विद्यार्थियों के लिए समय अच्छा रहेगा। सुख-सुविधाओं की वस्तुओं पर धन खर्च कर सकते है।
उपायः- नारंगी रंग की वस्तुओं को जरुरतमंदों मे दान करें तथा नियमित भगवान शिव की आराधना करें।

सिंह लग्नः- बुध का राशि परिवर्तन आपको अच्छे परिणाम देगा तथा आपकी कुण्डली में बुध का गोचर भाग्य भाव में हो रहा है। आपकी आर्थिक स्थिति मजबूत रहेगी तथा आमदनी के अच्छे अवसर मिलेंगे। शारीरिक रुप से आप स्वस्थ्य महसूस करेंगे परन्तु मानसिक रुप से चिंता बन सकती है। इसके अलावा रक्तचाप रोगियों एवं जो लोग एसिडिटी की समस्या से पीड़ित है उन्हें अपना विशेष ध्यान रखना चाहिए। कार्य-व्यवसाय की दृष्टिकोण से समय अत्यन्त शुभ रहने वाला है। समाज में आपको मान-सम्मान प्राप्त होगा सरकारी कार्यों से भी लाभ प्राप्ति के योग बन रहे है पारिवारिक स्थिति अच्छी रहेगी लेकिन छोटे भाई-बहनों से विवाद हो सकता है। वैवाहिक जीवन मे उतार-चढ़ाव बना रहेगा।
उपायः- सूर्य के बीज मंत्र का पाठ करें।

कन्या लग्नः- आपकी कुण्डली में बुध का राशि परिवर्तन अष्टम भाव में हो रहा है। शारीरिक रुप से आप स्वस्थ्य महसूस करेंगे। अपने पराक्रम द्वारा शत्रुओं का सामना करने मे सक्षम होंगे तथा न्यायिक कार्यों मे आपको सफलता मिलेगी अपने कर्जों से मुक्ति पाने के अवसर प्राप्त होंगे। आमदनी के क्षेत्र में कुछ रुकावटें उत्पन्न हो सकती है साथ ही संतान पक्ष को भी कष्ट मिल सकते है। विद्यार्थियों को अपने शिक्षा मे अच्छे अंक प्राप्त करने के लिए अत्यधिक परिश्रम करने पड़ सकते है। आपके आयु मे वृद्धि होगी परन्तु कई बार शारीरिक समस्या को लेकर परेशानी बढ़ सकती है। पारिवारिक जीवन में कलह की स्थिति बनी रहेगी। कार्य-व्यवसाय मे आपको परेशानियों का सामना करना पड़ेगा।
उपायः- गणेश जी को दुर्वा अर्पित करें तथा पांच प्रकार के अनाजों को मिलाकर दान करें।

तुला लग्नः- आपकी कुण्डली में बुध का राशि परिवर्तन सप्तम भाव में हो रहा है। शारीरिक रुप से आप कमजोर महसूस करेंगे तथा वैवाहिक जीवन मे परेशानियां उत्पन्न हो सकती है तथ जीवनसाथी के स्वास्थ्य को लेकर भी आप चिंतित हो सकते है। आमदनी के क्षेत्र में कुछ रुकावटें उत्पन्न हो सकती है जो आपके आर्थिक स्थिति को प्रभावित कर सकता है। विद्यार्थियों को अपने शिक्षा में अच्छे परिणाम देखने को मिल सकता है परन्तु संतान पक्ष को लेकर चिंता बन सकती है। कार्य-व्यवसाय के क्षेत्र में आपको कुछ परेशानियों के बाद लाभ प्राप्त होगा। साझेदारी के कार्यों से दूर रहें।
उपायः- कुत्ते को मीठी रोटी खिलाएं तथा पांच प्रकार के अनाजों को दान करें।

वृश्चिक लग्नः- आपकी कुण्डली में बुध का राशि परिवर्तन छठे भाव में हो रहा है। स्वास्थ्य के प्रति आपको सावधान रहने की आवश्यकता है। त्वचा, मधुमेह एवं शरीर के मोटापे से परेशान हो सकते है। भौतिक सुख-सुविधाओं का सुख आपको विलम्ब से प्राप्त होगा। पारिवारिक जीवन कष्टदायक साबित हो सकता है तथा संतान को लेकर भी चिंता बनी रहेगी। महिला मित्रों से कुछ मनमुटाव हो सकता है तथा वैवाहिक जीवन मे भी समस्या उत्पन्न हो सकती है। धार्मिक कार्यों मे आपका रुझान बढ़ेगा। आपका पराक्रम बढ़ा-चढ़ा रहेगा। कार्य-व्यवसाय में आपको लाभ प्राप्त होगा तथा जीवनसाथी का सहयोग भी आपको कार्यक्षेत्र में प्राप्त होगा।
उपायः- अपने बड़े-बुजुर्गों का आशीर्वाद प्राप्त करें तथा सूर्य देव को जल दें, वैवाहिक जीवन उत्तम होगा।

धनु लग्नः- आपकी कुण्डली में बुध का राशि परिवर्तन पंचम भाव में हो रहा है। जिसके कारण आपको मिश्रित परिणाम प्राप्त होगा। शारीरिक रुप से आप ऊर्जावान अनुभव रहेंगे परन्तु जीवनसाथी के स्वास्थ्य मे परेशानी बढ़ सकती है। अपने पराक्रम द्वारा शत्रुओं का सामना करने मे आप सक्षम होंगे। गर्भवती महिलाएं अपना विशेष ध्यान रखें तथा पिता को लेकर कुछ चिंता बन सकती है अपने परिश्रम द्वारा धन अर्जन करने में सक्षम होंगे। विद्यार्थियों को अपने शिक्षा के क्षेत्र में अच्छे परिणाम प्राप्ति करने के लिए अत्यधिक परिश्रम करना पड़ेगा। आमदनी प्राप्ति के अवसर में कुछ रुकावटें प्राप्त होगी।
उपायः- ब्राह्मणों को भोजन खिलाएं तथा गुरु के बीज मंत्रों का पाठ करें।

मकर लग्नः- आपकी कुण्डली में बुध का राशि परिवर्तन चतुर्थ भाव में हो रहा है। स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहें तथा माता-पिता के स्वास्थ्य पर भी ध्यान दें। महिलाओं को अपने स्वास्थ्य पर ध्यान देने की आवश्यकता है। विद्यार्थियों को अपने शिक्षा मे अत्यधिक परिश्रम करना पड़ सकता है। कार्य-व्यवसाय मे आपको अत्यधिक मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है। वैवाहिक जीवन को लेकर समस्याएं उत्पन्न हो सकती है। भूमि, वाहन के सुख में कमी महसूस होगी। धन का संग्रह करने मे आप सक्षम होंगे जिससे आपकी स्थिति मजबूत होगी।
उपायः- सफेद रंग की वस्तुओं को दान करें एवं शनिवार का व्रत रखें आपकी परेशानियां दूर होंगी।

कुंभ लग्नः- आपकी कुण्डली में बुध का राशि परिवर्तन पराक्रम भाव में हो रहा है। शारीरिक रुप से आप ऊर्जावान अनुभव करेंगे। कार्य-व्यवसाय के क्षेत्र में आपको अत्यधिक परिश्रम करना पड़ सकता है जिसके बाद लाभ प्राप्ति के योग बन रहे है। अपने परिश्रम द्वारा धन अर्जन करने मे आप सक्षम होंगे। आपके पराक्रम मे कमी आ सकती है तथा छोटे भाई-बहनों से कुछ मनमुटाव हो सकता है। आमदनी के अवसर प्राप्त होंगे तथा दूर संचार के माध्यमों से आप लाभ प्राप्त करेंगे। विद्यार्थी वर्ग अपने शिक्षा को लेकर परिश्रमी रहेंगे। धार्मिक कार्यों को लेकर आप भ्रमित हो सकते है। माता को लेकर चिंता बन सकती है। आपकी यात्राएं अधिक होंगी तथा खर्चों मे बढ़ोत्तरी होगी।
उपायः- सफेद रंग की वस्तुओं का दान करें तथा शनि के बीज मंत्रो का पाठ करें।

मीन लग्नः- आपकी कुण्डली में बुध का राशि परिवर्तन द्वितीय भाव में हो रहा है। शारीरिक रुप से आप ऊर्जावान अनुभव करेंगे लेकिन गले से सम्बन्धित कुछ परेशानी बन सकती है तथा छोटे भाई-बहनों को लेकर मुश्किलें उत्पन्न हो सकती है। बाहरी स्त्रोंतो से आमदनी के अवसर प्राप्त होंगे तथा लम्बी दूरी की यात्राओं का योग बन रहा है। धन का संग्रह करन में आप सक्षम होंगे। कार्य-व्यवसाय के क्षेत्र में आपको सफलता प्राप्त होगा तथा आपकी वित्तीय स्थिति भी सुदृढ़ होगी। विद्यार्थियों को अपने शिक्षा के क्षेत्र में कुछ परेशानियाँ महसूस होंगी। प्रेम-प्रसंग मे अनबन हो सकती है। दूर संचार के माध्यमों से आपको आमदनी के अच्छे अवसर प्राप्त होंगे।
उपायः- गुरु के बीज मंत्रो का उच्चारण करें, दिन शुभ होगा।