रामनवमी पर बन रहें है दुर्लभ योग | Ram Navmi par ban rahe hai Durlabh yog |

रामनवमी का यह पावन पर्व श्रीराम जी के जन्म दिवस के रुप में मनाया जाता है। जो प्रत्येक वर्ष चैत्र माह में बहुत धूमधाम से मनाया जाता है परन्तु इस वर्ष राम नवमी अत्यन्त शुभ है क्योंकि रामनवमी पर कई दुर्लभ योग बन रहें जो आपके लिए अत्यन्त महत्वपूर्ण है। रामनवमी, चैत्र नवरात्रि की समाप्ति तिथि है इस दिन श्री राम जी के मंदिर का भव्य श्रृंगार होता है।

रामनवमी 2023 जाने शुभ मुहूर्त एवं तिथि

हिन्दू पंचांग के अनुसार चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि को रामनवमी का त्यौहार मनाया जाता है। इस वर्ष नवमी तिथि 29 मार्च 2023 को रात्रि 09 बजकर 07 मिनट पर आरम्भ हो रही है तथा इसका समापन 30 मार्च 2023 को रात्रि 11 बजकर 30 मिनट पर होगा।

रामजी की पूजा का शुभ मूहर्त

प्रातः 11 बजकर 17 मिनट से दोपहर 01 बजकर 46 मिनट तक
अभिजीत मुहूर्तः- दोपहर 12 बजकर 01 मिनट से दोपहर से दोपहर 12 बजकर 51 मिनट तक सम्पूर्ण अवधि 02 घण्टे 28 मिनट की है।

जाने रामनवमी पर बनने वाले शुभ योग, मुहूर्त एवं शुभ तिथि

इस वर्ष 2023 में रामनवमी के पावन दिन पर पाँच शुभ योगों का निर्माण हो रहा है जो आपके सोई किस्मत को जगा सकता है। रामनवमी के पाँच शुभ योग, अमृत सिद्धि योग, सर्वार्थ सिद्धि योग, रवि योग, गुरु पुष्य योग और गुरु का संयोग। इस दिन पाँच योगों के बनने से श्रीराम जी की पूजा करने वाले भक्तों को विशेष लाभ प्राप्त होगा तथा भगवान राम शीघ्र प्रसन्न होंगे। आज के दिन किये गये कामों से आपको विशेष लाभ मिलेगा। जीवन में आ रही बाधाएं दूर होगी।

यह पढ़ेंः- चैत्र नवरात्रि के आठवें दिन सभी राशियों के अनुसार करें उपाय

गुरु पुष्य योगः-

30 मार्च 2023, दिन गुरुवार प्रातः 10 बजकर 59 मिनट पर आरम्भ होगा जो 31 मार्च प्रातः 06 बजकर 13 मिनट तक रहेगा।

अमृत सिद्धि योगः-

30 मार्च 2023 प्रातः 10 बजकर 59 मिनट से आरम्भ होकर अगले दिन 31 मार्च दिन शुक्रवार को 06 बजकर 13 मिनट तक रहेगा।

सर्वार्थ सिद्धि योगः-

यह योग पूरे दिन रहेगा। (30 मार्च)

रवि योगः-

यह योग भी पूरे दिन होगा।

गुरुवारः-

भगवान श्रीराम विष्णु जी के सातवें अवतार है और गुरुवार का दिन भगवान विष्णु जी को समर्पित है और ऐसे में राम जन्मोत्सव गुरुवार के दिन होने से इसकी महत्ता अत्यधिक बढ़ जाती है।

रामनवमी को अवश्य करें ये कामः-

रामनवमी के पवित्र अवसर पर एक कटोरी में गंगाजल, रामरक्षा मंत्र ‘‘ओम श्रीं हृीं क्लीं रामचन्द्राय श्रीं नमः’’ का जाप 108 बार करें। अब घर की छत के प्रत्येक कोने पर इसका छिड़काव करें इससे घर के वास्तु दोष दूर होते है तथा नकारात्मक शक्तियों का प्रभाव नही पड़ता है।

रामनवमी के दिन शुभ मुहूर्त को ध्यान में रखकर भगवान राम को केसर युक्त दूध अर्पित करें उसके पश्चात घर में रामायण का पाठ करें क्योंकि रामायण पाठ करने से घर में राम जी एवं हनुमान जी का वास होता है। इससे घर में खुशहाली बनी रहती है तथा धन, वैभव एवं सुख-समृद्धि में वृद्धि होती है।

रामनवमी के सरल उपाय जो चमका देगी आपकी किस्मत
वैवाहिक जीवन में सुख-शांति के लिए

आज के दिन भगवान राम के साथ माता सीता की भी पूजा अवश्य करें आपका दाम्पत्य जीवन सदा सुखमय रहेगा।

बाधाओं की मुक्ति हेतु

आज आप श्री राम जी की पूजा के बाद राम स्तुति का पाठ करें तथा सुंदरकाण्ड का पाठ भी कर सकते है। दक्षिणावर्ती शंख से आप श्री राम जी का अभिषेक करें इससे आपको सभी प्रकार की बाधाओं से मुक्ति मिलेगी।

माता सीता के चरणों में लगाए सिंदूर

आज के दिन सिंदूर लगे हनुमान जी की मूर्ति का सिंदूर लेकर सीता जी के चरणों में लगाएं उसके बाद माता सीता से अपनी कामना निवेदित कर भक्तिपूर्वक प्रणाम कर वापस आ जाएं। यह प्रक्रिया आपको रामनवमी के दिन सुबह, दोपहर, शाम को करना चाहिए जिससे घर में सुख-शांति बनी रहेगी।

यह पढ़ेंः-  सभी भक्तों को नवरात्रि में जरुर करने चाहिए ये काम माँ दुर्गा अवश्य पूरा करेंगी आपकी सभी मनोकामनाएं

राम मंत्र के महत्व

रमे रामे मनोरमे
सहस्त्रनाम तत्तुल्यं
श्री राम नाम वरानने
श्री राम राम रमेति

इस मंत्र से भगवान राम शीघ्र प्रसन्न होते है। भगवान राम को पीले वस्त्र अत्यन्त प्रिय है।
रामनवती के दिन गरीबों को भोजन वस्त्र आदि दान करें यह आपके लिए मंगल होगा। आज के दिन पीले वस्त्र चढ़ाना अत्यधिक शुभ होता है।

धन प्राप्ति के लिए

आज के दिन मंदिर में केसरिया ध्वज दान करें एवं पीले वस्तुओं का भोग लगाएं इसके साथ ही केसर युक्त दूध से अभिषेक करें, धन लाभ प्राप्ति के योग बनेंगे और रामायण का पाठ करें भगवान राम शीघ्र प्रसन्न होंगे।