लगने जा रहा है सूर्य ग्रहण, न करें ये काम 20 अप्रैल 2023

सूर्य ग्रहण का राशियों पर प्रभाव

सूर्य ग्रहण का प्रभाव राशियों पर भी पड़ता है जिसके कारण उन्हें शुभ एवं अशुभ परिस्थितियों का सामना करना पड़ेगा। ग्रहण के दौरान सूर्य मेष राशि और अश्विनी नक्षत्र में होगा। जिसके कारण मेष राशि के जातकों पर इसका प्रभाव ज्यादा रहेगा साथ ही सिंह राशि, कन्या राशि, मिथुन राशि, धनु राशि और मीन राशि वालों पर इसका शुभ प्रभाव पड़ेगा। परन्तु वृषभ, वृश्चिक और मकर राशि के जातकों को अत्यधिक उतार-चढ़ाव का सामना करना पड़ेगा।

सूर्य ग्रहण के दौरान निम्न बातों का रखें ध्यान

☸सूर्य ग्रहण को कभी भी नंगी आंखों से नही देखना चाहिए।
☸ सूर्य ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाओं को अधिक से अधिक भगवान का ध्यान करना चाहिए।
☸ सूर्य ग्रहण के दौरान किसी भी नुकीली वस्तु से दूर रहें।
☸ इस समय काल मे कोई शुभ अथवा अनैतिक कार्य न करें।
☸ साथ ही ग्रहण के दौरान घर से बाहर न निकलें।

सूर्य ग्रहण के बाद करें ये निम्न कामः-

☸ जब सूर्य ग्रहण खत्म हो जाए तो घर की साफ-सफाई अवश्य करें।
☸ पूरे घर में गंगाजल का छिड़काव करें और सभी देवी-देवताओं को स्नान कराएं।
☸ सूर्य ग्रहण काल में या उसके बाद दान अवश्य करें।
☸ गाय को हरा चारा खिलाएं।
☸ गर्भवती महिलाएं ग्रहण के बाद स्नान अवश्य करें।
☸ पितरों का तर्पण करें।
☸ परिवार के सभी सदस्यों को पानी में गंगाजल डालकर स्नान करना चाहिए।

सूर्य ग्रहण का वैज्ञानिक कारण

सूर्य ग्रहण का पौराणिक कारण के अलावा वैज्ञानिक कारण भी है जो इस प्रकार हैः- जब सूर्य और पृथ्वी के बीच में चन्द्रमा आ जाता है तब चन्द्रमा के पीछे सूर्य का प्रतिबिम्ब कुछ समय के लिए ढ़क जाता है। इसी घटना को सूर्य ग्रहण कहते है। पृथ्वी सूर्य की परिक्रमा करती है और चन्द्रमा पृथ्वी की जिसके कारण कभी-कभी चन्द्रमा सूर्य और पृथ्वी के बीच में आ जाता है। यह घटना सूर्य के प्रकाश को पृथ्वी पर आने से रोकती है जिसके फलतः पृथ्वी भी अंधेरा हो जाता है इसी घटना को सूर्य ग्रहण कहते है। सूर्य एवं चन्द्रमा की यह घटना सदैव अमावस्या तिथि को होती है।

READ ALSO   2 दिन बाद होने वाला है चोर पंचक शुरु, रहेगा भद्रा का भी प्रभाव, इन कार्यों को करने से होगी धन हानि
साल का पहला सूर्य ग्रहण 2023

इस वर्ष पहला सूर्य ग्रहण 20 अप्रैल 2023 गुरुवार को लगेगा 07 बजकर 04 मिनट से प्रारम्भ होगा और दोपहर 12 बजकर 29 मिनट तक रहेगा।

यह ग्रहण पश्चिमी अफ्रीका, उत्तरी अमेरिका, दक्षिण अमेरिका, अटलांटिका और अर्टाकटिका में दिखाई देगा यह ग्रहण भारत में नजर नही आयेगा।

साल का दूसरा सूर्य ग्रहण

साल का दूसरा सूर्य ग्रहण 14 अक्टूबर 2023 को लगेगा जिसका प्रभाव कर्क, तुला, मकर और मेष राशियों पर रहेगा यह सूर्य ग्रहण भी भारत में नही देखा जायेगा।
साल 2023 में चन्द्रग्रहण कब लगेगा।

इस वर्ष कुल चार ग्रहण लगेंगे जिनमे दो सूर्य ग्रहण एवं दो चन्द्रगहण है। इस वर्ष का पहला चन्द्रग्रहण 5 मई को राम 08 बजकर 45 मिनट से आरम्भ होकर रात 01 बजे तक रहेगा साथ ही दूसरा चन्द्रग्रहण 28 अक्टूबर को लगेगा।

कहाँ-कहाँ देखा जायेगा साल का पहला सूर्य ग्रहण

कुछ विशेषज्ञों के अनुसार यह सूर्य ग्रहण आस्ट्रेलिया, पूर्व और दक्षिण एशिया, प्रशांत महासागर, अंटार्कटिका और हिन्द महासागर से देखा जायेगा यह सूर्य ग्रहण पूर्ण सूर्य ग्रहण होगा तथा साल 2023 का दूसरा सूर्य ग्रहण वलयाकार सूर्य ग्रहण होगा जो मध्य और दक्षिण उत्तरी अमेरिका, और मैक्सिको, संयुक्त राज्य अमेरिका के कुछ हिस्सों और कई मध्य और दक्षिण अमेरिकी देशों में देखा जायेगा साथ ही पश्चिमी गोलार्द्ध के लोग भी इन सूर्य ग्रहणों को देख सकते है।

क्या होता है सूतक काल जाने पूर्ण जानकारी

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार ग्रहण के दौरान सूतक काल बहुत महत्वपूर्ण होता है। सूतक काल सूर्य ग्रहण से 12 घण्टे पहले और चन्द्र ग्रहण से 9 घण्टे पहले ही आरम्भ हो जाता है। इस समय को अशुभ माना जाता है और इस समय के दौरान कोई भी शुभ काम नही किया जाता है। इस वर्ष 2023 में दोनो सूर्य ग्रहण भारत में नही दिखाई देगा और इसी कारण भारत में सूतक काल मान्य नही होगा।

READ ALSO   The Tenth House In Vedic Astrology
क्या है आंशिक सूर्य ग्रहण

जब चन्द्रमा सूर्य और पृथ्वी के बीच में आ जाता है तो सूर्यग्रहण लगता है। इस अवस्था में चन्द्रमा सूर्य के प्रकाश को पूरी तरह या आंशिक रुप से ढ़क लेता है अर्थात आंशिक ग्रहण के दौरान चन्द्रमा सूर्य को पूरी तरह से ढ़क नही पाता है और सूर्य अर्ध चंद्राकार रुप से नजर आता है।

सूर्यग्रहण के दौरान चमकेगी इन राशियों की किस्मत

वृषभ राशिः- इस वर्ष का पहला सूर्यग्रहण वृषभ राशि के जातकों के लिए शुभ रहेगा। कार्य- व्यवासाय के क्षेत्र में सफलता मिलेगी तथा पदोन्नति के योग बन रहे है, इसके साथ ही आपकी आमदनी में बढ़ोत्तरी होगी। अतः व्यापार के लिए यह समय अच्छा रहेगा।

मिथुन राशिः- इस राशि के जातकों को सूर्यग्रहण का शुभ परिणाम मिलेगा। आपको रुका हुआ धन मिल सकता है तथा अचानक लाभ प्राप्ति के योग बन रहे हैं। कारोबारियों का व्यापार शीघ्र गति से आगे बढ़ेगा।

धनु राशिः- धनु राशि के जातकों को सूर्य ग्रहण सकारात्मक परिणाम देगा। आपको सभी कामों में भाग्य का साथ मिलेगा जिससे आपको प्रत्येक कार्य में सफलता मिलेगी। घर-परिवार मे खुशियों का माहौल बना रहेगा। वैवाहिक जीवन भी अच्छा होगा।

सूर्य ग्रहण पर करें उपाय

सूर्य ग्रहण के दौरान सूतक काल लगने से पहले प्रातःकाल उठे एवं स्नान आदि करने के बाद सूर्य देव को जल दें तथा सूर्यदेव के बीज मंत्र का जाप करें।

सूर्य बीज मंत्रः- ॐ ह्रीं ह्रीं सूर्याय नमः ।