वर्ष 2023 में गोद भराई शुभ मुहूर्त

बात करें हम गोद भराई की तो यह किसी भी स्त्रियों के लिए गर्भावस्था के दौरान निभाई जाने वाली एक बहुत ही सुन्दर रस्म है। इसमें गर्भस्थ शिशु का परिवार में स्वागत करने के साथ-साथ गर्भवती माँ को मातृत्व की ढ़ेरो खुशियों का आशीर्वाद दिया जाता है। बच्चे के जन्म से पहले कुछ पारंपरिक रस्में भी निभाई जाती हैं जिनमें से एक होता है गोद भराई। कुछ परिवारों में गोद भराई की रस्म गर्भावस्था के सातवें माह में की जाती है। मान्यता के अनुसार इस माह में माँ और गर्भ में पल रहा शिशु पूरी तरह से सुरक्षित होता है। ऐसे में बात यह आती है कि गोद भराई कब करें। आपको बता दें गोद भराई हो या फिर ऐसा कोई भी शुभ कार्य हो उसे शुभ तिथि, शुभ मुहूर्त तथा शुभ नक्षत्र में करना ज्यादा लाभदायक होता है। शुभ मुहूर्त में गोद भराई जैसे शुभ कार्य करने से जच्चा और बच्चा पूरी तरह से स्वस्थ रहते है और उन्हें अपनी डिलेवरी के समय ज्यादा परेशानी नही झेलना पड़ेगा। यदि आप भी अपनी गोद भराई की रस्म शुभ मुहूर्त में करना चाहते है तो हमारे योग्य ज्योतिषाचार्य के. एम. सिन्हा जी के द्वारा संपादकीय ज्योतिष विज्ञान की मैगजीन में देख सकते हैं। इस मैगजीन में गोद भराई के सभी शुभ मुहूर्त को बताया गया है।

जून 2023 में गोदभराई शुभ मुहूर्त

तिथि                 दिन                      नक्षत्र                           शुभ मुहूर्त

1 जून             बृहस्पतिवार           स्वाती                    सुबह 6ः17 मिनटसे सुबह 11ः15 मिनट तक
8 जून            बृहस्पतिवार           धनिष्ठा                    सुबह 6ः28 मिनट से दोपहर 2ः51 मिनट तक
12 जून               सोमवार             रेवती                      सुबह 3ः55 मिनट से सुबह 6ः34 मिनट तक
26 जून               सोमवार             हस्त                        सुबह 10ः52 मिनट से शाम 5ः22 मिनट तक
30 जून                शुक्रवार          अनुराधा                     सुबह 6ः00 बजे से सुबह 11ः52 मिनट तक

जुलाई 2023 में गोद भराई शुभ मुहूर्त

तिथि                 दिन                      नक्षत्र                           शुभ मुहूर्त

4 जुलाई             मंगलवार              उत्तराषाढ़ा                सुबह 7ः55 मिनट से रात्रि 8ः15 मिनट तक
6 जुलाई          बृहस्पतिवार            धनिष्ठा                    सुबह 6ः50 मिनट से सुबह 11ः15 मिनट तक
11 जुलाई            मंगलवार              भरणी                     सुबह 10ः00 बजे से शाम 5ः26 मिनट तक
12 जुलाई             बुधवार              कृतिका                  दोपहर 1ः20 मिनट से रात्रि 9ः30 मिनट तक
14 जुलाई             शुक्रवार             मृगशिरा                 शाम 6ः11 मिनट से रात्रि 11ः55 मिनट तक
15 जुलाई              शनिवार             मृगशिरा               सुबह 5ः26 मिनट से सुबह 11ः30 मिनट तक
20 जुलाई             बृहस्पतिवार          मघा                   सुबह 8ः15 मिनट से दोपहर 3ः56 मिनट तक
24 जुलाई               सोमवार               चित्रा                 सुबह 4ः52 मिनट से सुबह 11ः54 मिनट तक

READ ALSO   ज्योतिष में  राशि,भाव एवं शरीर के अंग
अगस्त 2023 में गोद भराई शुभ मुहूर्त

तिथि                 दिन                      नक्षत्र                           शुभ मुहूर्त

1 अगस्त              मंगलवार                 श्रवण                   दोपहर 2ः00 बजे से रात्रि 11ः55 मिनट तक
2 अगस्त               बुधवार                  धनिष्ठा                सुबह 11ः15 मिनट से दोपहर3ः40मिनट तक
5 अगस्त               शनिवार             उत्तराभाद्रपद          शाम 5ः00बजे से रात्रि 12ः00 बजे तक
10 अगस्त           बृहस्पतिवार             रोहिणी                सुबह 6ः55 मिनट से शाम 4ः30 मिनट तक
19 अगस्त              शनिवार            उत्तरा फाल्गुनी         सुबह 5ः20 मिनट से रात्रि 8ः15 मिनट तक
20 अगस्त              रविवार                    हस्त                सुबह 4ः26 मिनट से सुबह 11ः19 मिनट तक
21 अगस्त               सोमवार                  चित्रा                सुबह 11ः12 मिनट से शाम 5ः26 मिनट तक
22 अगस्त              मंगलवार                स्वाती             दोपहर 2ः05 मिनट से रात्रि 11ः54 मिनट तक
24 अगस्त             बृहस्पतिवार          अनुराधा            दोपहर 3ः31 मिनट से रात्रि 8ः32 मिनट तक
28 अगस्त               सोमवार             उत्तराषाढ़ा          सुबह 7ः26 मिनट से दोपहर 3ः15 मिनट तक
29 अगस्त               मंगलवार               श्रवण               सुबह 8ः11 मिनट से रात्रि 10ः00 बजे तक

सितम्बर 2023 में गोद भराई शुभ मुहूर्त

तिथि                 दिन                      नक्षत्र                           शुभ मुहूर्त

2 सितम्बर            शनिवार                  रेवती                  सुबह 10ः10 मिनट से शाम 7ः26 मिनट तक
3 सितम्बर             रविवार                 अश्विनी                 सुबह 5ः26 मिनट से शाम 4ः20 मिनट तक
4 सितम्बर             सोमवार                 भरणी                  सुबह 12ः00 बजे दोपहर 3ः55 मिनट तक
6 सितम्बर              बुधवार                  रोहिणी               सुबह 4ः20 मिनट से दोपहर 3ः00 बजे तक
7 सितम्बर            बृहस्पतिवार            मृगशिरा           दोपहर 3ः15 मिनट से रात्रि 11ः26 मिनट तक
8 सितम्बर              शुक्रवार                 आर्द्रा               सुबह 10ः15 मिनट से शाम 5ः00 बजे तक
10 सितम्बर             रविवार                   पुष्य                सुबह 11ः17 मिनट से रात्रि 9ः55 मिनट तक
11 सितम्बर              सोमवार               आश्लेषा            सुबह 5ः00 बजे से पूरा दिन
16 सितम्बर              शनिवार                  हस्त               शाम 7ः00 बजे से रात्रि 11ः00 बजे तक
17 सितम्बर               रविवार                   चित्रा            दोपहर 3ः01 से मिनट से शाम 7ः00 बजे तक
18 सितम्बर              सोमवार                  स्वाती            सुबह 4ः12 मिनटसे सुबह 11ः12 मिनट तक
20 सितम्बर              बुधवार                  अनुराधा         दोपहर 3ः30 मिनट से रात्रि 9ः30 मिनट तक
21 सितम्बर            बृहस्पतिवार              ज्येष्ठ              दोपहर 4ः00 बजे से रात्रि 3ः00 बजे तक (22 सितम्बर)
26 सितम्बर               मंगलवार               धनिष्ठा             सुबह 9ः02 मिनट से सुबह 11ः00 बजे तक
27 सितम्बर                 बुधवार                शतभिषा          शाम 7ः09 मिनट से रात्रि 11ः30 मिनट तक
29 सितम्बर                शुक्रवार             उत्तराभाद्रपद      सुबह 5ः15 मिनट से रात्रि 9ः00 बजे तक
30 सितम्बर                शनिवार               अश्विनी           सुबह 6ः30 मिनटसे सुबह 10ः01 मिनट तक

READ ALSO   शिक्षक दिवस
अक्टूबर 2023 में गोद भराई शुभ मुहूर्त

तिथि                 दिन                      नक्षत्र                           शुभ मुहूर्त

1 अक्टूबर             रविवार                  भरणी                    सुबह 4ः21 मिनट से पूरा दिन
6 अक्टूबर             शुक्रवार                पुनर्वसु                 सुबह 5ः28 मिनट से रात्रि 10ः01 मिनट तक
7 अक्टूबर              शनिवार                  पुष्य                 सुबह 7ः30 मिनट से सुबह 10ः55 मिनट तक
8 अक्टूबर               रविवार                  पुष्य                 दोपहर 2ः30 मिनट से शाम 6ः00 बजे तक
11 अक्टूबर              बुधवार             पूर्वा फाल्गुनी          सुबह 5ः22 मिनट से रात्रि 9ः44 मिनट तक
16 अक्टूबर             सोमवार              विशाखा                सुबह 10ः11 मिनट से पूरा दिन
21 अक्टूबर             शनिवार             उत्तराषाढ़ा           दोपहर 3ः55 मिनट से शाम 6ः22 मिनट तक
27 अक्टूबर             शुक्रवार                 रेवती                शाम 6ः16 मिनट से रात्रि 9ः55 मिनट तक

READ ALSO   कुण्डली में ग्रहों के कौन से योग देते हैं तलाक के संकेत
नवम्बर 2023 में गोद भराई शुभ मुहूर्त

तिथि                 दिन                      नक्षत्र                           शुभ मुहूर्त

8 नवम्बर              बुधवार            उत्तरा फाल्गुनी            सुबह 6ः22 मिनट से शाम 5ः23 मिनट तक
9 नवम्बर           बृहस्पतिवार               हस्त                    सुबह 10ः55 मिनटसे रात्रि 9ः55 मिनट तक
12 नवम्बर             रविवार                 स्वाती                    दोपहर 3ः11 मिनटसे रात्रि 9ः57 मिनट तक
13 नवम्बर             सोमवार               विशाखा                 सुबह 5ः53 मिनट से रात्रि 10ः11 मिनट तक
18 नवम्बर             शनिवार             उत्तराषाढ़ा           सुबह 10ः13 मिनट से सुबह 11ः22 मिनट तक
22 नवम्बर              बुधवार           उत्तरा भाद्रपद        सुबह 4ः26 मिनट से दोपहर 1ः30 मिनट तक

दिसम्बर 2023 में गोद भराई शुभ मुहूर्त

तिथि                 दिन                      नक्षत्र                           शुभ मुहूर्त

4 दिसम्बर             सोमवार                 मघा         रात्रि 8ः25 मिनट से रात्रि 2ः55 मिनट तक (5 दिसम्बर तक)
9 दिसम्बर            शनिवार                 स्वाती         सुबह 7ः26 मिनट से दोपहर 3ः04 मिनट तक
11 दिसम्बर           सोमवार               अनुराधा       सुबह 8ः15 मिनट से रात्रि 10ः57 मिनट तक
12 दिसम्बर          मंगलवार                 ज्येष्ठ          सुबह 7ः26 मिनट रात्रि 11ः16 मिनट तक
16 दिसम्बर           शनिवार                 श्रवण         सुबह 6ः00 बजे से सुबह 11ः11 मिनट तक
17 दिसम्बर           रविवार                 धनिष्ठा          शाम 6ः10 मिनट से रात्रि 9ः22 मिनट तक
25 दिसम्बर           सोमवार               मृगशिरा        शाम 5ः26 मिनट से रात्रि 10ः22 मिनट तक
27 दिसम्बर           बुधवार                  पुनर्वसु सुबह 4ः20 मिनट से पूरा दिन