वास्तु के अनुसार जाने पूजा घर में माचिस रखने के नुकसान

हमारे हिन्दू धर्म में पूजा-पाठ का बहुत महत्व है इसलिए अधिकांश घरों में मंदिर होता है। घर में बने मंदिर के लिए ज्योतिष और वास्तु शास्त्र में कुछ चीजे रखने की मनाही की गई है, मंदिर में इन चीजों का होना घर में नकारात्मकता लाता है और कई तरह से नुकसान पहुंचाता है। पूजा रुम में रखने से वर्जित की गई इन चीजों में माचिस भी शामिल है आइए जानते हैं माचिस समेत किन चीजों को मंदिर में रखना वर्जित किया गया है और क्यों किया गया हैं।

घर के मंदिर में क्यो नही रखना चाहिए माचिस

घर में बना मंदिर घर का सबसे पवित्र स्थान होता है यहां पर माचिस रखना घर मे नकारात्मकता लाता है और अपशगुन का कारण बनता है। घर के मंदिर मे देवी-देवताओं की मूर्ति तस्वीरें रखी जाती हैं उनकी पूजा की जाती है इसलिए यहां पर हमेशा पवित्र और सकारात्मकता लाने वाली चीजें ही रखनी चाहिए, वरना देवी-देवता नाराज होकर दंड दे सकते हैं। यदि मंदिर के आसपास माचिस रखनी ही है तो उसे आलमारी या दराज में रखें माचिस को खुले में न रखें इसके अलावा दीप-धूप के समय माचिस इस्तेमाल करने के बाद तिल्लियों को वहीं आसपास न फेकें। ये तिल्लियां नकारात्मक ऊर्जा आकर्षित करती हैं और कई तरह से नुकसान का कारण बनती है। माना जाता है कि घर के मंदिर में माचिस या लाइट जैसा ज्वलनशील सामान रखने से पूजा का फल नही मिलता है।

घर के मंदिर में कभी न रखें ये चीजें

☸ घर के मंदिर में कभी भी मुरझाए हुए फूलों को न रखें ऐसा करना आर्थिक तरक्की और करियर में सफलता को रोकता है कई तरह की रुकावटें पैदा करता है।
☸ मंदिर में देवी-देवताओं की खंडित मूर्ति या तस्वीर रखना जीवन में बड़ी विपत्ति ला सकता है। घर में कलह, धन-हानि, बीमारी का कारण बनता है।
☸ एक ही देवी-देवता की एक से ज्यादा मूर्तियां रखना घर में बड़ा वास्तु दोष पैदा करता है ना ही पूजा घर में पूर्वजों की तस्वीर रखें इनका स्थान अलग होना चाहिए।
☸ धूपबत्ती, अगरबत्ती की राख मंदिर में न रखें ना ही दीपक की जली हुई बत्ती रखें।

READ ALSO   क्यों करते हैं सावन में पार्थिव शिवलिंग की पूजा, जाने इसके खास महत्व