शास्त्रों के अनुसार धूनी के प्रयोग से दूर हो जाएंगी सारी नकारात्मकताएँ, मिलने लगेगा धन लाभ

शास्त्रों के अनुसार सनातन तथा हिन्दू धर्म में धूप या फिर धूनी जलाने की परम्परा बहुत ही ज्यादा पुरानी है। मान्यता के अनुसार घर में नियमित रूप से धूनी का प्रयोग करने से घर में स्थित और आने वाली सभी नकारात्मक शक्तियों का नाश होता है साथ ही घर में सकारात्मक शक्तियों का संचार बढ़ता है इसके अलावा भी धूनी से संबंधित कुछ खास वस्तुएं हैं जिसकी धूनी घर में वातावरण को शुद्ध रखने के लिए नियमित रूप से जलाई जाती है इन सभी वस्तुओं से लगाई गई धूनी से घर को बुरी नजर से भी बचाया जा सकता है तो आइए कुछ अन्य धुनियों के बारे में हमारे योग्य ज्योतिषाचार्य के. एम. सिन्हा जी के द्वारा यह समझते हैं कि कौन सी धूनी हमारे वातावरण को खुश शुद्ध और पवित्र करती है।

धूप देने के लाभ

ज्योतिषशास्त्र के अनुसार बात करें धूनी कि तो हिन्दू धर्म में धूप दिखाने का विशेष महत्व होता है। यदि नियमपूर्वक धूप दिखाई जाएं तो ऐसी स्थिति में जीवन की सारी तकलीफें अपने आप ही दूर हो जाती हैं। मान्यता के अनुसार अलग-अलग तरह के धूप का प्रयोग करने से अलग- अलग तरह की सारी परेशानियाँ दूर हो जाती हैं।

वैसे तो नियमित रूप से भगवान जी को धूप अवश्य दिखाना चाहिए परन्तु यदि संभव न हो पाये तो आप आने वाले विशेष दिनों जैसे तेरस, चौदस अमावस्या तथा पूर्णिमा को सुबह-शाम धूप अवश्य दिखायें, धूप दिखाने से पहले इस बात का ध्यान अवश्य रख लें कि आपका घर साफ-सुथरा है या नही, धूप को जलाकर हमेशा ईशान कोण में इस तरह से रखें कि उसकी खुशबू घर के सभी कोनों तक फैल जाए और ईश्वर से इस बात की प्रार्थना करें कि हमारे घर में सब कुशल मंगल हो ।

READ ALSO   शुभ ग्रहों की स्थिति में किये गये गलत दान आपके लिए हो सकते हैं कष्टदायक

घर में प्रतिदिन नियमित रूप से धूप जलाना बहुत ही ज्यादा शुभ माना जाता है आपको बता दें धूप जलाने से न केवल जातक का मन शांत होता है बल्कि जातक और उसके परिवार के सभी सदस्यों के रोग-शोक और भय भी पूरी तरह से दूर हो जाते हैं। इसके अलावा कुण्डली में स्थित ग्रहों की स्थिति से होने वाली चिंताएं भी जल्द से जल्द दूर हो जाती हैं। घर में चल रहे लम्बे समय से ग्रह क्लेश भी समाप्त हो जाते हैं।

नीम के पत्ते की धूनी

शास्त्रों के अनुसार धूनी के प्रयोग से दूर हो जाएंगी सारी नकारात्मकताएँ, मिलने लगेगा धन लाभ 1

आपको यह बात पता होगी कि नीम का उपयोग आयुर्वेद में एक औषधि के रूप में किया जाता है यह जातक के सेहत के लिए बहुत ज्यादा फायदेमंद होता है। ऐसे में अपने घर में सूखी नीम की पत्तियों को जलाकर पूरे घर में धूनी देने से घर में मौजूद सभी प्रकार के हानिकारक जीवाणु समाप्त हो जाते हैं। यदि इन नीम की पत्तियों की धूनी घर में नियमित रूप से दी जाए तो ऐसा करने से घर में मौजूद नकारात्मक ऊर्जाएं भी समाप्त हो जाती हैं।

कपूर और लौंग की धूनी

शास्त्रों के अनुसार धूनी के प्रयोग से दूर हो जाएंगी सारी नकारात्मकताएँ, मिलने लगेगा धन लाभ 2

कपूर और लौंग से सम्बन्धित धूनी कि बात करें तो प्रतिदिन सुबह और शाम के समय कपूर और लौंग की धूनी देना शुभ माना जाता है घर में नियमित रूप से कपूर और लौंग की धूनी देने से घर के सभी वास्तु दोष समाप्त हो जाते हैं तथा देवी- देवता हमेशा प्रसन्न रहते हैं।

दशांग फूल की धूनी

शास्त्रों के अनुसार धूनी के प्रयोग से दूर हो जाएंगी सारी नकारात्मकताएँ, मिलने लगेगा धन लाभ 3

दशांग फूल वह फूल होता है जिसमें चंदन, कुष्ठ, नखल, जटामासी, गुड़, राल, शर्करा, नखगंध, लघु और क्षौद्र को बराबर-बराबर मात्रा में मिलाने से एक अच्छी गुणवत्ता वाला धूप बनाया जाता है इसे ही दशांग धूप के नाम से जाना जाता है। मान्यता के अनुसार दशांग धूप को घर में जलाने से घर की सभी नकारात्मक शक्तियाँ दूर हो जाती हैं और जातक के जीवन में सकारात्मकता का संचार अत्यधिक बढ़ जायेगा।

READ ALSO   ALL ABOUT MOON : FACTORS, SIGNS AND REMEDIES
लोबान की धूनी

शास्त्रों के अनुसार धूनी के प्रयोग से दूर हो जाएंगी सारी नकारात्मकताएँ, मिलने लगेगा धन लाभ 4

बात करें धूनी के अन्य प्रकारों में लोबान कि तो हिन्दू धर्म में इसे बहुत ज्यादा सुगन्धित अवयवों में से एक माना जाता है इसका भी अपना एक विशेष महत्व होता है। धार्मिक मान्यता के अनुसार घर में लोबान जलाने से परलौकिक शक्तियाँ स्वयं की तरफ आकर्षित होती है। लोबान की धूनी जलाते वक्त इस बात का ध्यान अवश्य रखना चाहिए कि इसे सुलगते हुए कंडे या अंगारे पर रखकर ही जलाना चाहिए। लोबान को घर में जलाने से पहले किसी जानकार की राय अवश्य लें, मुख्य रूप से गुरुवार के दिन किसी समाधि पर विशेष रूप से लोबान जलाने से भी परलौकिक शक्तियाँ मिलने में मदद मिलती हैं।

गुग्गल की धूनी

शास्त्रों के अनुसार धूनी के प्रयोग से दूर हो जाएंगी सारी नकारात्मकताएँ, मिलने लगेगा धन लाभ 5

यदि किसी जातक के घर में प्रतिदिन क्लेश होता रहता है तो ऐसे में पूरे घर में गुग्गल की धूनी देना अत्यधिक लाभदायक सिद्ध हो सकता है। आपको बता दें गुग्गल की धूनी पूरे घर में दिखाने से घर के सभी वाद-विवाद, समाप्त हो जाते हैं। इसके अलावा यह धूनी जातक की मानसिक समस्या और तनाव को दूर करने में भी काफी मदद करता है।

ऐसे जलाएं धूनी वास्तुदोष होंगे दूर

यदि आप अपने जीवन में वास्तुदोष से परेशान हैं तो ऐसे में अपने घर में सप्ताह में दो बार नीम के पत्तों की धूनी जलानी चाहिए, इसकी धूनी जलाने से घर में स्थित  जीवाणुओं और विषाणुओं के समाप्त होने के साथ-साथ घर के वास्तुदोष भी पूरी तरह से समाप्त हो जायेंगे। इसके अलावा प्रत्येक शनिवार को शाम के समय में पीपल की पूजा करके धूप और दीप अवश्य जलाएं, इन उपायों को करने से जातक के जीवन में धन और समृद्धि के मार्ग खुल जायेंगे साथ ही आपकी कुण्डली में आए हुए शनिदोष भी सदैव के लिए दूर हो जायेंगे।

READ ALSO   NAVPATRIKA POOJA
यह धूनी देगा तंत्र-मंत्र की समस्याओं से छुटकारा

यदि किसी जातक को ऐसा प्रतीत होता है कि उनके घर में किसी ने तंत्र-मंत्र कर रखा है तो उसे इन सबसे छुटकारा पाने के लिए जावित्री, गायत्री और केसर को एक साथ कूटकर उसमें उचित मात्रा में गुग्गल मिला लें इस बने हुए मिश्रण का नियमित रूप से शाम के समय धूनी जलाने से तंत्र-मंत्र की समस्याएँ कोसों दूर हो जायेंगी। मान्यता के अनुसार इस मिश्रण का पूरे 21 दिन तक घर में धूनी करने से सभी तांत्रिक अभिकर्म दूर हो जाते हैं।

इस धूनी के प्रयोग से नकारात्मकता होती है दूर

यदि किसी जातक को ऐसा महसूस हो रहा है कि उनके घर में किसी न किसी नकारात्मक शक्तियों का वास है और आपका काम बनते-बनते बिगड़ता जा रहा है तो ऐसे में पीले सरसों, लोबान, गौघृत, गुग्गल को एक जगह मिलाकर धूप बना लें और सूर्यास्त होने के कुछ समय पहले उपले जलाकर यहां सभी मिश्रित सामग्री लेकर धूनी जलाएं और उसका धुआं पूरे घर में दिखा दें मान्यता के अनुसार ऐसा पूरे 21 दिनों तक करने से घर में आयी हुई सारी नकारात्मकताएं दूर हो जाती हैं और सभी बिगड़े हुए काम बनने लगते हैं जिसके कारण आप अपनी सारी चिंताओं से मुक्त हो जाते हैं।