हथेली पर ऐसी विवाह रेखा के होेने पर नही मिलते पति-पत्नी के विचार

वैसे तो इस धरती पर जितने भी मनुष्य हैं उन सभी की हथेली में विवाह रेखा अवश्य ही होता है परन्तु कभी-कभी किसी व्यक्ति की हथेली पर कुछ ऐसी रेखाएँ होती हैं जो ये बताती हैं कि दाम्पत्य जीवन में बँधे हुए पति-पत्नी के बीच उनके विचार या दृष्टिकोण आपस में मिलते हैं कि नहीं यदि आपके विचार और दृष्टिकोण हथेली पर बने इस विवाह रेखा के कारण नही मिल पाते हैं तो अवश्य रुप से यह आपके वैवाहिक जीवन में समस्या पैदा कर सकते हैं। ज्योतिष शास्त्र के द्वारा पति-पत्नी के बीच अनुकूलता का विश्लेषण किन कारकों के माध्यम से किया जाता है आइए इसे हमारे योग्य ज्योतिषाचार्य के. एम. सिन्हा जी के द्वारा समझते हैं।

हथेली पर बनी हुई इन रेखाओं के कारण होती है वैवाहिक जीवन में परेशानियाँ

हथेली पर ऐसी विवाह रेखा के होेने पर नही मिलते पति-पत्नी के विचार 5

ज्योतिष शास्त्र के द्वारा हथेली में कुछ ऐसी रेखाएं स्थित होती हैं जिनके द्वारा हम अपने वैवाहिक जीवन के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। इन्हीं को ध्यान में रखते हुए यहाँ कुछ रेखाएं दी गई हैं जो कि अक्सर वैवाहिक जीवन में आ रही समस्याओं का कारण होती हैं जो निम्न हैं।

हथेली में स्थित टूटी या जंजीर की आकृति जैसी बनी हुई हृदय रेखा

हृदय रेखा हमारी हथेली में स्थित होकर भावना, प्रेम और व्यक्ति के रिश्तों का प्रतिनिधित्व करती है। इसी कारण से यदि हथेली में स्थित हृदय रेखा किसी कारणवश टूटी हुई या जंजीरों जैसी दिखाई दे तो ऐसी स्थिति में जातक भावनात्मक रुप से उथल-पुथल हो जाता है इसके अलावा जातक अपने वैवाहिक जीवन में स्थिर संबंध बनाए रखने में बहुत सारी कठिनाइयों का सामना करता हैं। जिसके कारण पति और पत्नी के बीच दरार उत्पन्न हो जाती है साथ ही इनके आपस में मिलने वाले विचार भी एक दूसरे के विपरीत हो जाते हैं।

जातक की हथेली पर बनी हुई हल्की भाग्य रेखा

हथेली पर ऐसी विवाह रेखा के होेने पर नही मिलते पति-पत्नी के विचार 6

किसी जातक की हथेली में स्थित भाग्य रेखा जातक के करियर, महत्वकांक्षा तथा व्यक्ति कि स्थिरता को बताता है। अतः यदि किसी जातक की हथेली में भाग्य रेखा या तो बहुत ही ज्यादा हल्की हों या उसकी हाथ की हथेली पर भाग्य रेखा उपस्थित हो ही ना तो ऐसे जातक को अपने जीवन में जीवन भर संघर्ष करना लिखा होता है जिसका सीधा प्रभाव प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रुप से जातक के वैवाहिक जीवन पर ही पड़ता है। इसका प्रभाव वैवाहिक जीवन पर पड़ने से पति-पत्नी के विचार आपस में कभी नही मिलेंगे, ऐसा व्यक्ति जीवन भर संघर्ष करने के कारण बहुत चिड़चिड़ा सा हो जाता है जिसके कारण वैवाहिक जीवन में मतभेद और मनमुटाव जैसी स्थिति भी देखने को मिलती है जो कि एक सुखी वैवाहिक जीवन के लिए बहुत ही खतरनाक है।

READ ALSO   शुक्र का राशि परिवर्तन मीन राशि में 2023
जातक की हथेली पर बनी विवाह रेखा

किसी जातक की हथेली में विवाह रेखा को संबंध रेखा भी कहा जाता हैं यह रेखा लगभग सभी मनुष्यों में हथेली में सबसे छोटी उंगली के नीचे स्थित होती है। यदि किसी जातक की हथेली में विवाह रेखा पर द्वीप चिन्ह् बना हो तो यह चिन्ह् जातक के वैवाहिक जीवन के लिए बहुत खतरनाक साबित होता है। अतः विवाह रेखा की ऐसी स्थिति पति-पत्नी के बीच प्रेम संबंधों में अत्यधिक कठिनाइयाँ उत्पन्न करती है। इस तरह की बनी हुई रेखा या तो विवाह के बाद अत्यधिक संघर्ष करवाते हैं या तो ऐसी स्थिति पति और पत्नी के बीच अलगाव की स्थिति उत्पन्न कर देती है जिसके कारण एक व्यक्ति का वैवाहिक जीवन पूरी तरह से बिखर जाता है और जीवन में अत्यधिक समस्याओं को बढ़ा कर दाम्पत्य जीवन में अस्थिरता पैदा करता है।

हथेली में स्थित हल्की या टूटी हुई सूर्य रेखा

किसी जातक की हथेली में स्थित सूर्य रेखा को करियर का रेखा भी कहा जाता है। वास्तव में यह रेखा जातक को हर क्षेत्र में सफलता और प्रतिष्ठा प्राप्त करते हैं। यह रेखा यदि किसी जातक की हथेली में हल्की सी टूटी हुई हो तो ऐसी रेखा एक व्यक्ति के व्यापार क्षेत्र में विकास करने में खूब संघर्ष करने का संकेत देती है तथा उनके कार्य-व्यवसाय में चारो ओर से बाधा उत्पन्न करती है। इसका सीधा प्रभाव कहीं न कहीं दाम्पत्य जीवन पर भी अवश्य पड़ता है। इन रेखाओं के द्वारा वित्तीय दबाव होने के कारण जातक का दाम्पत्य जीवन पूरी तरह से अस्त व्यस्त हो जाता है जिसके कारण आये दिन पति-पत्नी के बीच वाद-विवाद की स्थिति उत्पन्न होती रहती है तथा जातक का वैवाहिक जीवन कभी सुखी नही होता है।

READ ALSO   कौन से लग्न वालें जातक निरडर जीवन जीना पसंद करते है?
कुछ अन्य विवाह रेखाएं वैवाहिक जीवन को बनाती है सफल

ज्योतिष शास्त्र और हस्तरेखा विज्ञान के अनुसार व्यक्ति के हाथ में कुछ ऐसी रेखाएं होती है जो उनके लिए अच्छी साबित होती हैं परन्तु कुछ रेखाएं ऐसी होती हैं जो हमेशा खतरनाक भी साबित हो सकती हैं उन्हीं मे से एक है विवाह रेखा यदि हथेली में विवाह रेखा खराब स्थिति में हो तो जातक का जीवन बर्बाद हो जाता है पर यदि यही विवाह रेखा अच्छी स्थिति में हो तो व्यक्ति का वैवाहिक जीवन स्वर्ग बन जाता हैं तो आइए हम हथेली की कुछ ऐसी विवाह रेखाओं के बारे में जानते हैं जो आम तौर पर वैवाहिक जीवन के लिए एक सकारात्मक संकेत देती है।

हथेली पर बनी हुई लम्बी और स्पष्ट हृदय रेखा

किसी जातक की हथेली में यदि हृदय रेखा एकदम सीधी और स्पष्ट रुप से बनी हुई हैं तो ऐसे जातकों के वैवाहिक जीवन में किसी प्रकार की परेशानियाँ उत्पन्न नही होती हैं। ऐसे जातकों का वैवाहिक जीवन भावनात्मक रुप से बहुत ही स्थिर और खुले विचारों वाला होता हैं साथ ही जातकों के वैवाहिक जीवन में एक सार्थक संबंध बनाने की क्षमता प्रदान करते हैं। ऐसी रेखाओं के बने होने से जातक एक सुखी और समृद्ध वैवाहिक जीवन का आनन्द लेता है।

हथेली पर बनी हुई सीधी और स्पष्ट भाग्य रेखा

हथेली पर ऐसी विवाह रेखा के होेने पर नही मिलते पति-पत्नी के विचार 7

यदि किसी जातक की हथेली पर एक सीधी और स्पष्ट भाग्य रेखा बनी हुई हो तो ऐसे जातक अपने करियर और व्यवसाय के क्षेत्र में सफलता प्राप्त करते हैं साथ ही वित्तीय रुप से होने वाले किसी भी हानि या घाटे को कभी उत्पन्न नही होने देते हैं। हथेली पर बनी हुई ऐसी स्थिति वैवाहिक जीवन के प्रति एक संतुलित दृष्टिकोण का संकेत देती है। भाग्य की सीधी और स्पष्ट रेखा से जातक का वैवाहिक जीवन बहुत ही सफल होता है उन्हें किसी भी तरह की परेशानियों का सामना नही करना पड़ता है।

READ ALSO   Daily Horoscope, Aaj Ka Rashifal आज का राशिफल, 19 April 2023 In Hindi
हथेली पर बनी हुई स्पष्ट सूर्य रेखा

किसी जातक की हथेली में यदि सूर्य रेखा स्पष्ट हो तो ऐसे जातक अपने करियर के क्षेत्र में हमेशा सफल परिणाम की प्राप्ति करते है। इसके अलावा यदि किसी जातक की हथेली में सूर्य रेखा एकदम स्पष्ट बनी हुई हो तो इससे जातक एक पेशेवर के रुप में बहुत सारी उपलब्धियाँ प्राप्त करता है। इस रेखा से जातक एकदम स्वस्थ रहता है अपने कार्य और परिवार के बीच में हमेशा संतुलन बनाए रखता है साथ ही जातक को हर क्षेत्र में एक सकारात्मक योगदान देने की क्षमता प्रदान करता है। इसके अलावा सूर्य दाम्पत्य जीवन वाले जातकों में सुख-समृद्धि बढ़ाने का भी संकेत देती है जिसके कारण पति-पत्नी के विचार आपस में मिलते रहते हैं। कुल मिलाकर यह रेखा भी वैवाहिक जीवन की सुख-शांति के लिए जिम्मेदार होती है।

हथेली पर बनी हुई बुध पर्वत रेखा

किसी जातक की हथेली पर बुध पर्वत जातक को संचार, बुद्धि और एक अनुकूल वातावरण से जोड़ता है इसके अलावा बुध पर्वत एक उत्कृष्ट संचार कौशल और जीवन में अनुकूलता के द्वारा पति-पत्नी के दाम्पत्य जीवन का भी संकेत देता है। बुध पर्वत जातक को एक प्रभावी ढ़ंग से अभिव्यक्त करने और आपस में हुए पति-पत्नी के बीच बातों और विचारों के मेल से वैवाहिक जीवन में आने वाले संघर्षों को हल करने की क्षमता प्रदान करता है और एक सुखी वैवाहिक जीवन प्रदान करता है।