Vinayak Chaturthi विनायक चतुर्थी, 14 जनवरी 2024

विनायक चतुर्थी की बात करें तो यह त्योहार प्रत्येक माह के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि को मनाया जाता है परन्तु देश के कुछ हिस्सों में यह त्योहार मकर संक्रांति के एक दिन पहले भी मनाया जाता है। इस दिन गणेश जी की पूजा-अर्चना करना लाभदायक माना जाता है। इस दिन गणेश जी की उपासना करने से घर में सुख-समृद्धि हमेशा बनी रहती है साथ ही जातक को धन-दौलत, आर्थिक सम्पन्नता के साथ-साथ ज्ञान एवं बुद्धि की भी प्राप्ति होती है।

विनायक चतुर्थी पूजा विधि

☸ विनायक चतुर्थी के दिन प्रातः जल्दी उठकर स्नान करें। उसके बाद स्वच्छ वस्त्र धारण करें।

☸ अब घर के मंदिर की साफ-सफाई करके दीप प्रज्वलित करें।

☸ दीप जलाने के बाद भगवान गणेश जी का गंगाजल से अभिषेक करें।

☸ गणेश भगवान को साफ वस्त्र पहनाकर सिन्दुर का तिलक लगायें और उन्हें दूर्वा अर्पित करें।

☸ मान्यता के अनुसार दूर्वा अर्पित करने से सभी भक्तों की सारी मनोकामनाएँ पूर्ण होती है।

☸ पूजा की समाप्ति के बाद आरती करें और भगवान गणेश जी को मोदक का भोग लगाएं।

☸  उसके बाद पूजा समाप्त होने के बाद सभी लोगों में प्रसाद वितरित करें।

विनायक चतुर्थी शुभ मुहूर्त

शुक्ल चतुर्थी प्रारम्भः- 14 जनवरी 2024 को सुबह 07ः59 मिनट से,
शुक्ल चतुर्थी समाप्तः- 15 जनवरी 2024 को सुबह 04ः59 मिनट तक।

READ ALSO   Mithun Sankranti, मिथुन संक्रान्ति 2024
error: