09 जनवरी 2024 मासिक शिवरात्रि

हिन्दू धर्म में मासिक शिवरात्रि तथा महाशिवरात्रि का विशेष महत्व होता है। देखा जाए तो मासिक शिवरात्रि, शिव और शक्ति के मिलन का एक महान पर्व होता है। हिन्दू धर्म के कैलेण्डर के अनुसार प्रत्येक माह के कृष्ण पक्ष की चतुदर्शी तिथि को मासिक शिवरात्रि का पावन पर्व मनाया जाता है। आपको बता दें मासिक शिवरात्रि वर्ष के प्रत्येक माह और महाशिवरात्रि वर्ष मे एक बार मनाया जाता है। शास्त्रों के अनुसार इस दिन किये जाने वाले व्रत से जातक की सारी मुश्किलें बहुत आसान हो जाती हैं। मासिक त्योहारों में शिवरात्रि के व्रत और पूजन का अत्यधिक महत्व होता है। इस दिन भगवान शिव और मां पार्वती की श्रद्धा से पूजा-अर्चना की जाती है जिससे हमें उनकी विशेष कृपा प्राप्त होती है। मासिक शिवरात्रि का यह व्रत पूर्णिमा के व्रत के बाद दूसरा सबसे महत्वपूर्ण व्रत माना जाता है।

मासिक शिवरात्रि पूजा विधि

☸ मासिक शिवरात्रि वाले दिन प्रातः जल्दी उठकर स्नानादि करके पूरी तरह से पवित्र हो जाने के बाद स्वच्छ वस्त्र धारण करें और व्रत का संकल्प लें।

☸ व्रत करने के दौरान निराहार व्रत रहें, अन्न और भोजन न खायें, फल और दूध से बनी बिस्किट तथा सात्विक खाद्य पदार्थों का ही सेवन करें।

☸ पूजा के स्थान पर शिवलिंग को जल से स्नान कराएं उसके बाद पुष्प, धूप, दीप, कुमकुम, अक्षत, बेल पत्र तथा जल से शिव जी की पूजा करें।

☸ पूजा के दौरान व्रत की कथा अवश्य सुनें, इस दिन मान्यता के अनुसार रूद्राभिषेक कराने से भी शिव जी अत्यधिक प्रसन्न होते हैं संभव हो पाये तो रूद्राभिषेक अवश्य करायें।

READ ALSO   हरितालिका तीज 2023

☸ उसके बाद शिव चालीसा, शिव तांडव तथा शिव जी के अन्य स्त्रोतों का पाठ करें।

☸ भगवान शिव जी की पूजा-अर्चना करते समय शिव जी को फल, फूल, दूध, घी, मिश्री, पानी तथा लड्डू का भोग लगायें।

☸ पूजा समाप्त हो जाने के बाद शिव जी की आरती करें आरती समाप्त होने के बाद सभी का प्रसाद बाटें।

☸ संध्या की पूजा समाप्त होने के बाद फलाहार करें और अगले दिन शिव जी की पूजा कर लेने के बाद ही उपवास तोड़ें।

मासिक शिवरात्रि पूजा मुहूर्त

मासिक शिवरात्रि का व्रत 9 जनवरी 2024 को मंगलवार के दिन मनाया जायेगा।
कृष्ण चतुर्दशी प्रारम्भः- 09 जनवरी 2024 रात्रि 10ः24 मिनट  से
कृष्ण चतुर्दशी समाप्तः- 10 जनवरी 2024  रात्रि 08ः10 मिनट तक।
शुभ मुहूर्त 9 जनवरी 2024  मध्यरात्रि 12ः01 मिनट से मध्यरात्रि 12ः55 मिनट (10 जनवरी) तक