सुख और वैभव देने वाले शुक्र ग्रह का राशि परिवर्तन, जानिए ज्योतिष में शुक्र ग्रह का महत्व और 12 राशियों पर प्रभाव

शुक्रः- वर्ष 2023 में शुक्र का राशि परिवर्तन 30 मई दिन मंगलवार को होगा। शुक्र कर्क राशि में गोचर करेंगे तथा यह गोचर सभी राशियों पर अपना कुछ न कुछ प्रभाव डालेगा। आइयें इसे हम प्रसिद्ध ज्योतिषाचार्य के. एम. सिन्हा जी के द्वारा समझते है कि किन राशियो के लिए यह परिवर्तन अच्छा रहेगा तथा किन राशि के जातकों को अशुभ फल देगा  कुण्डली मे शुक्र को ऐशो आराम का कारक माना जाता है यह एक जलतत्व है। सभी ग्रहों में शुक्र को सबसे अच्छा ग्रह माना जाता है। शुक्र की स्थिति जातकों को सुख वैभव एवं ऐश्वर्य की प्राप्ति कराता है।

मेष लग्नः- शुक्र का राशि परिवर्तन आपकी कुण्डली में सुख भाव में हो रहा है। स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहें एसिडिटी की समस्या बन सकती है तथा मानसिक रुप से भी पीड़ित हो सकते है। साथ ही माता एवं भूमि, वाहन इत्यादि के सुख में कमी महसूस करेंगे। परिवार में सुख-शांति बनी रहेगी परन्तु अपने वाणी पर नियंत्रण बनाएं रखें नही तो वाद-विवाद की स्थिति भी उत्पन्न हो सकती है। वैवाहिक जीवन के लिए भी समय कठिनपूर्ण रहेगा। कार्य-व्यवसाय के क्षेत्र में आपको बेहतर परिणाम मिलेंगे तथा आमदनी के भी अच्छे स्त्रोत्र प्राप्त होंगे। आपके खर्चों में बढ़ोत्तरी होगी तथा यात्राएं भी अधिक रहेंगी। आपका पराक्रम बढ़ा-चढ़ा रहेगा।
उपायः- पाँच प्रकार के अनाजों को मिलाकर दान करें, वैवाहिक जीवन मे आ रहीं परेशानियां दूर होंगी।

वृषभ लग्नः- आपकी कुण्डली में शुक्र का राशि परिवर्तन पराक्रम भाव में हो रहा है तथा यह राशि परिवर्तन शारीरिक रुप से अच्छा साबित होगा। आप ऊर्जावान अनुभव करेंगे तथा आपका पराक्रम भी बढ़ा-चढ़ा रहेगा। संतान पक्ष से आपका लगाव अधिक बढ़ेगा परन्तु छोटे भाई-बहनों के साथ कुछ मतभेद या परेशानी बन सकती है। अपने पराक्रम द्वारा अपने भाग्य की उन्नति करने मे सक्षम होंगे। कार्य-व्यवसाय मे आपको अच्छे परिणाम मिलेंगे तथा समाज में मान-सम्मान बढ़ेगा। जो लोग कोयले, पेट्रोल तथा शनि इत्यादि के कार्यों से जुड़े है उनको विशेष रुप लाभ प्राप्त होगा। वैवाहिक जीवन के लिए समय भाग्य का साथ प्राप्त होगा।
उपायः- नारंगी रंग की वस्तुओं का दान करें तथा सूर्यदेव को जल दें।

मिथुन लग्नः- शुक्र का राशि परिवर्तन आपकी कुण्डली में धन भाव में हो रहा है। शारीरिक रुप से आप स्वस्थ्य अनुभव करेंगे परन्तु गले से सम्बन्धित थोड़े बहुत विकार उत्पन्न हो सकते है। भाग्य का साथ प्राप्त होगा तथा कई परेशानियों से राहत मिलेगी। कार्य-व्यवसाय के क्षेत्र में आपको बेहतर परिणाम मिलेंगे तथा आमदनी के भी कई अवसर प्राप्त होंगे परन्तु अचानक से कुछ परेशानियाँ भी उत्पन्न हो सकती है। भूमि, वाहन से सम्बन्धित कार्यों मे आपको लाभ प्राप्त होगा। गर्भवती महिलाओं को अपना विशेष रुप से ध्यान रखना होगा साथ ही प्रेम-प्रसंग मे भी मनमुटाव की स्थिति उत्पन्न हो सकती है। आर्थिक संग्रह मे कुछ परेशानियां बन सकती है। माता के साथ आपका अधिक प्रेम बना रहेगा। बाहरी स्त्रोंतो से आमदनी के लाभ प्राप्त होंगे परन्तु खर्च भी बढ़ेंगे।
उपायः- नारंगी रंग की वस्तुओं का दान करें, आपका दिन शुभ होगा।

READ ALSO   सही तरीके से रखा गया धातु का कछुआ लाता है जीवन में सुख-समृद्धि और शांति

कर्क लग्नः- आपकी कुण्डली में शुक्र का राशि परिवर्तन आपके लग्न भाव में हो रहा है परन्तु यह परिवर्तन आपको नकारात्मक परिणाम दे सकता है। कार्य-व्यवसाय के क्षेत्र में कुछ रुकावटों के बाद सफलता मिलेगी। स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहें तथा माता को लेकर चिंता बन सकती है। भूमि, वाहन के कार्यों में आपको कुछ परेशानियों के बाद सफलता मिलेगी। आपका पराक्रम बढ़ा-चढ़ा रहेगा एवं भाई-बहनों का साथ प्राप्त होगा। आमदनी प्राप्ति के अच्छे अवसर प्राप्त होंगे। कार्य-व्यवसाय के क्षेत्र में आपको सफलता मिलेगी परन्तु आपको अत्यधिक परिश्रम करना पड़ सकता है। आपके आयु में वृद्धि होगी तथा पुरातत्व से सम्बन्धित कार्यों में लाभ प्राप्ति के योग बन रहे है। वैवाहिक जीवन को लेकर उतार-चढ़ाव की स्थिति बनी रहेगी। दैनिक रोजगार के क्षेत्र में आपको अत्यधिक परिश्रम करना पड़ सकता है। विद्यार्थियों के लिए समय अच्छा रहेगा।
उपायः- नारंगी रंग की वस्तुओं को अनाथालय में दान करें।

सिंह लग्नः- आपकी कुण्डली में शुक्र का राशि परिवर्तन द्वादश भाव में हो रहा है। कार्य-व्यवसाय के दृष्टिकोण से यह परिवर्तन आपको उत्तम परिणाम देगा। स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहें साथ ही जीवनसाथी के स्वास्थ्य को लेकर भी कुछ चिंता बन सकती है। समाज में आपका मान-सम्मान बढ़ेगा एवं नौकरी कर रहे जातकों के पदोन्नति की भी संभावना है। प्रशासन द्वारा भी लाभ प्राप्ति के योग बन रहे है। पिता के सहयोग से भी आप कई कार्यों को करने मे सक्षम होंगे। परिवार मे सुख-शांति बनी रहेगी लेकिन छोटे भाई-बहनों के साथ कुछ मतभेद हो सकता है। इसके अलावा महिला मित्रों के साथ आपका मतभेद हो सकता है। आपके पराक्रम में कमी आ सकती है।
उपायः- सूर्य देव की आराधना करें, समाज में आपका मान-सम्मान बढ़ेगा।

कन्या लग्नः- आपकी कुण्डली में शुक्र का राशि परिवर्तन एकादश भाव में हो रहा है जिसके कारण आमदनी के क्षेत्र में कुछ रुकावटें उत्पन्न हो सकती है साथ ही बड़े भाई-बहनों को भी कष्ट मिल सकता है। स्वास्थ्य सम्बन्धित परेशानियां खत्म होंगी अपने शत्रुओं का सामना करने में आप सक्षम होंगे पिता का सहयोग परिवार को लेकर परिस्थितियां अनुकूल हो सकती है। आपका विनम्र स्वभाव लोगों को आकर्षित करेगा। आर्थिक क्षेत्र में कुछ रुकावटों के बाद लाभ प्राप्त होगा जिससे धन का संग्रह करने में आप सक्षम होंगे। ससुराल पक्ष से भी आपको लाभ मिल सकता है। विद्यार्थियों को अपने शिक्षा में अत्यधिक परिश्रम करना पड़ सकता है तथा संतान पक्ष को कोई कष्ट मिल सकता है।
उपायः- गणेश जी की आराधना करें तथा बुध के बीज मंत्र का जाप करें।

READ ALSO   मंगल/मांगलिक अथवा कुंज दोष से आप क्या समझते है

तुला लग्नः- आपकी कुण्डली में शुक्र का राशि परिवर्तन एकादश भाव में हो रहा है जिसके कारण कार्य-व्यवसाय मे रुकावटों का सामना करना पड़ सकता है। वैवाहिक जीवन के लिए यह समय अच्छा नही रहेगा। जीवनसाथी के साथ किसी बात को लेकर विवाद हो सकता है तथा स्वास्थ्य को लेकर भी चिंता बन सकती है। दैनिक रोजगार के कार्यों मे रुकावटें महसूस हो सकती है। धन का संग्रह करने मे कुछ परेशानियां महसूस कर सकते है। आपका पराक्रम बढ़ा-चढ़ा रहेगा एवं छोटे भाई-बहनों का भी सहयोग मिलेगा। विद्यार्थियों के लिए समय अच्छा रहेगा आपके बुद्धि में बढ़ोत्तरी होगी परन्तु संतान पक्ष से थोड़ी अनबन हो सकती है।
उपायः- पाँच प्रकार के अनाजों का दान करें, परिस्थितियां आपके अनुकूल रहेगी।

वृश्चिक लग्नः- आपकी कुण्डली में शुक्र का राशि परिवर्तन भाग्य भाव मे हो रहा है जिसके फलस्वरुप यह परिवर्तन आपको सामान्य परिणाम देगा। शारीरिक रुप से आप स्वस्थ्य महसूस करेंगे परन्तु त्वचा रोग एवं मधुमेह सम्बन्धित कुछ परेशानी बनने की संभावना है। पारिवारिक एवं वैवाहिक जीवन के लिए समय अच्छा नही होगा। आपके पराक्रम मे कमी आ सकती है साथ ही छोटे भाई-बहनों को कुछ कष्ट मिल सकता है। भाग्य उन्नति मे परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। आमदनी के क्षेत्र में भी आप अधिक प्रयास कर सकते है। भौतिक सुख-सुविधाओं मे विलम्ब हो सकता है परन्तु कार्य-व्यवसाय मे आपको अच्छे लाभ मिलेंगे।
उपायः- भगवान हनुमान जी को लाल वस्त्र अर्पित करें आपकी परेशानियां दूर होंगी।

धनु लग्नः- आपकी कुण्डली में शुक्र का राशि परिवर्तन अष्टम भाव में हो रहा है। शारीरिक रुप से आज स्वस्थ्य महसूस करेंगे। आपका पराक्रम बढ़ा-चढ़ा रहेगा। कार्य-व्यवसाय के क्षेत्र में आपको सफलता मिलेगी। भौतिक सुख-सुविधाओं मे आपको अच्छे लाभ मिलेंगे। पिता के स्वास्थ्य में चिंता बन सकती है तथा भाग्य उन्नति मे रुकावटें महसस करेंगे। संतान पक्ष को भी कष्ट मिल सकता है। आमदनी के क्षेत्र मेें कुछ रुकावटें महसूस होंगी। आपके खर्चों मे बढ़ोत्तरी होगी तथा यात्राएं भी अधिक होंगी। बाहरी स्त्रोंतो से आपको आमदनी के अवसर प्राप्त होंगे।
उपायः- पांच प्रकार के अनाजों को मिलाकर पक्षियों को खिलाएं आपकी परेशानियां दूर होगी।

मकर लग्नः- आपकी कुण्डली में शुक्र का राशि परिवर्तन सप्तम भाव में हो रहा है। वैवाहिक जीवन के दृष्टिकोण से समय अच्छा रहेगा। भूमि, वाहन के सुख मे कुछ कमी महसूस होंगी। माता के स्वास्थ्य को लेकर चिंता बन सकती है। परिवार मे सुख-शांति का माहौल होगा धन-अर्जन करने मे आप सक्षम होंगे छोटे भाई-बहनों का सहयोग मिलेगा। विद्यार्थियों को अपने शिक्षा मे कुछ रुकावटों के बाद सफलता मिलेगी। कार्य-व्यवसाय के क्षेत्र में आपको अच्छे परिणाम मिलेंगे। पिता पक्ष से आपका लगाव बढ़ेगा।
उपायः- हनुमान जी को लाल रंगका चोला अर्पित करें तथा गरीबों मे नारंगी रंग की वस्तुओं का दान करें।

READ ALSO   What is SHRAPIT DOSH?

कुंभ लग्नः- आपकी कुण्डली में शुक्र का राशि परिवर्तन छठे भाव मे हो रहा है यह राशि परिवर्तन आपको मिश्रित परिणाम देगा। आप ऊर्जावान अनुभव करेंगे। धर्मिक एवं न्यायिक कार्यों मे आपका मन लगा रहेगा। लम्बी दूरी की यात्राओं के योग बन रहे है तथा आपके खर्चों मे वृद्धि होगी। महिला मित्रों से दूर रहें। कार्य-व्यवसाय के क्षेत्र में आपको कुछ रुकावटों के बाद लाभ मिलेगा। आपके पराक्रम में कुछ कमी महसूस होगी साथ ही छोटे भाई-बहनों को भी कुछ कष्ट मल सकता है। भाग्य उन्नतित मे आपको कुछ दिक्कते महसूस हो सकती है। परिवार मे सुख-शांति बनी रहेगी भूमि, वाहन के क्षेत्र में पराक्रम बढ़ सकता है।
उपायः- शनि के बीज मंत्र ओम प्रां प्री पौ सः शनैश्चराय नमः मंत्र का जाप करें।

मीन लग्नः- आपकी कुण्डली में शुक्र का राशि परिवर्तन पंचम भाव में हो रहा है। आपके पराक्रम मे कमी आ सकती है। आपका अधिकतर समय यात्राओं मे बीत सकता है। स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहें गले से सम्बन्धित कुछ परेशानी बन सकती है। छोटे भाई-बहनों को भी कष्ट मिल सकता है। परिवार में थोड़ी बहुत चिंता बन सकती है। बाहरी स्त्रोंतो से आमदनी के अवसर प्राप्त होंगे। कार्य-व्यवसाय मे आपको बेहतर परिणाम मिलेंगे। जीवनसाथी के साथ मधुर सम्बन्ध बने रहेंगे। विद्यार्थियों को अपने शिक्षा में बेहतर परिणाम मिलेंगे। दैनिक रोजगार केे क्षेत्र में किये गए परिश्रमों का लाभ प्राप्त होगा तथा साझेदारी के कार्यों मे भी लाभ अर्जित करेंगे। संतान का सुख मिलेगा। धन का संग्रह करने मे आपको कुछ लाभ मिल सकता है।
उपायः- अपने भोजन में बेसन, चीनी और घी से बने लड्डूओं का प्रयोग करें।

शुक्र ग्रह के उपाय

शुक्रवार के दिन सफेद वस्तुओं का दान करना और काली चीटिंयों को चीनी और सफेद गाय को आटा खिलाना अति शुभ होता है। 

शुक्र की शुभता प्रदान करने वाले रत्नों में हीरा,सफेद पुखराज आदि रत्न हैं। इसके अलावा स्फटिक की माला और चांदी का कड़ा धारण करने से भी शुक्र की शुभता प्राप्त होती है।

रोजाना शुक्र मंत्र का जप करें। ॐ द्रां द्रीं द्रौं सः शुक्राय नमः  इससे शुक्र ग्रह से अच्छे फल की प्राप्ति होती है।

कुंडली में शुक्र की शुभता पाने के लिए शुक्र यंत्र को विधिविधान से पूजा करवाकर पूजन स्थल में रखने पर लाभ प्राप्त होता है। यंत्र का स्थापित करने के पश्चात् सफेद पुष्प अर्पित करते हुए उसकी नियमित रूप से पूजा भी करना चाहिए। 

2 thoughts on “सुख और वैभव देने वाले शुक्र ग्रह का राशि परिवर्तन, जानिए ज्योतिष में शुक्र ग्रह का महत्व और 12 राशियों पर प्रभाव

Comments are closed.