8 लग्न के जातक हो जायें तुरन्त सावधान, आप पर बरसेगा सूर्य का कहर

इस वर्ष 2023 में 14 अप्रैल को सूर्य का राशि परिवर्तन मेष राशि में होगा जो सूर्य की परमोच्च राशि है। यह परिवर्तन मेष संक्रान्ति कहलायेगी परन्तु इस माह लगातार कई घटनाएं हो सकती है जिसमें 20 अप्रैल 2023 को सूर्य ग्रहण लगेगा लेकिन यह सूर्य ग्रहण भारत में दिखाई नही देगा। फलतः भारत में सूतक काल मान्य नही होगा। इस सूर्य ग्रहण का सबसे अधिक प्रभाव यूरोप और पश्चिमी देशों में रहेगा। इसके साथ ही 21 अप्रैल को बुध का राशि परिवर्तन एवं 22 अप्रैल को गुरु का रााशि परिवर्तन होगा तथा 10 मई को मंगल का राशि परिवर्तन उसकी परम नीच राशि कर्क मे होगा, जिसके कारण 14 अप्रैल से लेकर 15 मई तक का समय बेहद ही महत्वपूर्ण होगा। जिसका प्रभाव सभी राशियों पर पड़ेगा तो आईये इसकी सम्पूर्ण जानकारी हम प्रसिद्ध ज्योतिषाचार्य के.एम. सिन्हा जी द्वारा समझते हैं-

मेष लग्न

मेष लग्न के जातकों को शिक्षा के क्षेत्र में थोड़ा सावधान रहना चाहिए क्योंकि परिश्रम के अनुरुप आपको लाभ नही प्राप्त होगा साथ ही जीवनसाथी के साथ वैचारिक मतभेद हो सकता है एवं दैनिक रोजगार में भी कुछ कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है। स्वास्थ्य को लेकर भी सचेत रहें क्योंकि किडनी एवं गाइनो सम्बन्धित परेशानी बढ़ सकती है।

वृष लग्न

स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहें, बाई आँख से सम्बन्धित कुछ परेशानी बढ़ सकती हैं जिसके कारण धन खर्च हो सकता है तथा और शरीर के बायें हिस्से में कुछ परेशानी बन सकती है। भूमि सम्पत्ति से जुड़े कार्यों में कुछ रुकावटें आ सकती हैं इसलिए इससे जुड़ा कोई भी कार्य 14 अप्रैल के पहले ही कर लें।

मिथुन लग्न

आपके कुण्डली में सूर्य ग्रहण एकादश भाव में हो रहा है जिसके कारण मानसिक तनाव अधिक बढ़ेगा तथा गर्भहानि के योग बन रहे है। अतः इस दौरान गर्भवती महिलाएं अपना पूर्ण रुप से ख्याल रखें। भाई बहनों से कुछ परेशानी हो सकती हैं तथा आमदनी के क्षेत्र में भी बाधायें आयेंगी।।

READ ALSO   वृश्चिक राशिफल वार्षिक, Annual Horoscope 2024
कर्क लग्न

सूर्य ग्रहण आपको कई क्षेत्र में लाभ देगा। सरकारी कार्यों में आपको सफलता मिलेगी। स्वयं के व्यापार एवं प्रशासन से जुड़े कार्य में आपको सफलता मिलेगी परन्तु ग्रहण के कारण कुछ परेशानी अवश्य बन सकती है। माता के स्वास्थ्य को लेकर चिंता बढ़ सकती है एवं छोटी-मोटी यात्राओं का योग भी बन रहा है।

यह पढ़ेंः- मेष संक्रान्ति पर मनाई जायेगी बैशाखी 2023, क्या होगा इसका प्रभाव तथा खत्म हो जायेगा खरमास 

सिंह लग्न

आपको 14 अप्रैल से 1 मह तक लम्बी दूरी की यात्राएं नही करनी चाहिए। क्योंकि ये यात्राएं आपको सफलदायक परिणाम नही देगी जिसके कारण आपका मानसिक तनाव बढ़ सकता है। छोटे भाई-बहनों से अलगाव की स्थिति बन सकती है। किसी भी काम को लेकर शरीर में आलस्यता बढ़ सकती है और आप कामों को कल के भरोसे टाल सकते है। धार्मिक कार्यों मे कुछ रुकावटें उत्पन्न करेंगे। इस दौरान आपको सूर्यदेव को जल देना चाहिए तथा आदिता हृदय स्त्रोत का पाठ करें।

कन्या लग्न

कन्या लग्न में सूर्य का ग्रहण अष्टम भाव में हो रहा है। स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहें क्योंकि संक्रमण के कारण बुखार इत्यादि की समस्या बढ़ सकती है तथा परिवार में वाद-विवाद की स्थिति बनी रहेगी। आर्थिक क्षेत्र में परेशानी बढ़ सकती है तथा कोई भी नया निवेश इस समय न करें क्योंकि परिस्थितियाँ आपके अनुकूल नहीं रहेंगी।

तुला लग्न

इस समय के दौरान शारीरिक सौन्दर्य में कुछ कमी आ सकती है तथा वैवाहिक जीवन को लेकर मनमुटाव हो सकता है। यदि आप अपने जीवनसाथी से दूर से रह रहें हैं तो सूर्य ग्रहण का प्रभाव आपके जीवन में कम पड़ेगा। दैनिक रोजगार के लिए समय अच्छा नही रहेगा। अपने स्वभाव पर नियंत्रण रखें क्योंकि सूर्य की दृष्टि आपको पूर्णरूप रूप स्पष्टवादी बना सकती है जिसके कारण आप व्यर्थ के वाद विवाद में फंस सकते हैं। मानसिक परेशानी एवं आय के क्षेत्र में कुछ रुकावटें बन सकती है। भाई-बहनों के साथ भी परिस्थितियाँ अच्छी नही रहेंगी।

READ ALSO   Daily Horoscope, Aaj Ka Rashifal आज का राशिफल, 28 April 2023 In Hindi | KUNDALI EXPERT |
वृश्चिक लग्न

आपके लिए यह सूर्यग्रहण फलदायक सिद्ध होगा। यदि कोर्ट-कचहरी का कोई मामला लम्बे समय से चल रहा था तो उसमे आपको सफलता मिलेगी। स्वास्थ्य संबंधित परेशानियों से मुक्ति मिलेगी तथा कर्जों से भी आपको छुटकारा मिलेगा। संतान को लेकर कुछ परेशानी बन सकती है अथवा परिवार एवं संतान के साथ किसी लम्बी दूरी की यात्रा पर जा सकते है। इसके अलावा कुछ खर्च बढ़ सकते है।

धनु लग्न

इस अवधि में आपको धार्मिक कार्यों एवं यात्राओं से लाभ मिलेगा परन्तु यदि आप इन कार्यों से नहीं जुड़े है तो मानसिक परेशानी बढ़ सकती है। गर्भवती महिलाओं को अपना विशेष ध्यान रखना चाहिए क्योंकि गर्भहानि के योग बन रहे हैं तथा विद्यार्थियों के शिक्षा में भी कुछ रुकावटें बन सकती हैं। किसी भी काम को जन्दबाजी में पूर्ण करने का विचार बना सकते हैं तथा इस समय आप निर्णय लेने में असमर्थ महसूस करेंगे। इस समय आपको कोई भी नया निवेश नही करना चाहिए परन्तु आप इन सभी कामों में सफलता पाना चाहते है तो जितना संभव हो धार्मिक कार्यों से जुड़े एवंओम वासुदेवाय नमो भगवते का जाप करें तथा लक्ष्मी नारायण मंदिर जाकर भगवान का विधि पूर्वक पूजन करें जिससे आपको भाग्य का साथ मिलेगा एवं संतान सम्बन्धित परेशानी भी दूर होगी।

यह पढ़ेंः-  20 अप्रैल सूर्य ग्रहण के बाद की सबसे बड़ी भविष्यवाणी

मकर लग्न

आपके कुण्डली में सूर्य का गोचर चतुर्थ भाव में हो रहा है जिसके कारण परिवार में वाद-विवाद की स्थिति उत्पन्न हो सकती है लेकिन यदि आप परिवार से कहीं दूर रह रहें है तो इसका नकारात्मक प्रभाव आपके पारिवारिक जीवन पर कम रहेगा। यदि संभव हो तो आप इस अवधि में परिवार से दूर किसी यात्रा पर जा सकते है। भूमि, वाहन एवं मकान से सम्बन्धित परेशानी बढ़ सकती है तथा वाहन चलाते समय पूर्ण रुप से सावधान रहें। न्यायिक मामलों में भी परेशानी बढ़ सकती है अतः इस अवधि में आपको सावधान रहना चाहिए।

READ ALSO   रविवार के दिन क्या करें, क्या न करें?
कुंभ लग्न

सूर्य के प्रभाव के कारण आपके वैवाहिक जीवन में कुछ परेशानी बढ़ सकती है तथा छोटे भाई-बहनों से भी मतभेद हो सकता है। दैनिक कार्यों के लिए समय अच्छा नही रहेगा साथ ही मन भी अशांत रहेगा, आपको परिश्रम की अपेक्षा कम लाभ की प्राप्ति होगी जिसके कारण आपके आत्मविश्वास में कमी आ सकती है। इस परिस्थिति से निकलने के लिए आपको धार्मिक कार्यों मे अपना पूर्ण योगदान देना चाहिए तथा निरन्तर पूजा-पाठ करना चाहिए।

मीन लग्न

सूर्य का गोचर आपको कई परेशानियाँ दे सकता है। परिवार में वाद-विवाद की स्थिति बन सकती है एवं गले से सम्बन्धित विकार उत्पन्न हो सकते है। इस अवधि में स्वास्थ्य का पूर्ण ध्यान रखें अन्यथा अस्पलाल के खर्च बढ़ सकते है। यदि आप स्वास्थ्य को लेकर सचेत हो गये तो इन सभी परेशानियों से आपको राहत मिलेगी। इसके अलावा परिवार के किसी सदस्य के स्वास्थ्य को लेकर चिंता बढ़ सकती है। आपके वाणी में उग्रता आ सकती है।

One thought on “8 लग्न के जातक हो जायें तुरन्त सावधान, आप पर बरसेगा सूर्य का कहर

Comments are closed.

error: