नवग्रह पीड़ा निवारणार्थ यन्त्र-मन्त्र-रत्न एवं जड़ी धारण तथा व्यावसायिक वस्तुएँ की सामान्य जानकारी, नवग्रह पीड़ा (रोग)

सूर्य पीड़ित सूर्य से होने वाले रोगः– बुखार, कमजोरी, दिल का दौरा, पेट सम्बन्धित बीमारियाँ, त्वचारोग,…

Protected: शताभिषज नक्षत्र

There is no excerpt because this is a protected post.

कुण्डली में बने कुछ प्रमुख योग

1. गजकेसरी योगः- यदि चन्द्रमा से केन्द्र मे बृहस्पति हो तो गजकेसरी योग बनता है। जैसे…

श्रावण महीने मे क्या करें क्या न करेंः-

🔯 हिन्दू शास्त्रों के अनुसार सावन का माह पूजा पाठ और व्रत उपवास के लिए श्रेष्ठ…

रत्न धारण का ज्योतिषीय आधार सिंह लग्न के लिए

माणिकः– सिंह लग्न की कुण्डली मे सूर्य लग्नेश होता है। इस लग्न के लिए माणिक शुभ…

रत्न धारण का ज्योतिषीय आधार कर्क लग्न के लिए

माणिकः– कर्क लग्न मे सूर्य धन का मालिक होता है साथ ही लग्नेश का मित्र भी…

संतान के जन्म मे पाया का क्या महत्व है ?

एक पारिवारिक जीवन मे संतान का जन्म सबसे अधिक खुशियों वाला पक्ष होता है। संतान का…

मंगलवार के दिन क्या करे क्या न करें ?

मंगलवार का दिन हनुमान जी और मंगलदेव को समर्पित किया जाता है। माना जाता है यदि…

क्या है आपकी कुण्डली मे धनयोग

क्या है आपकी कुण्डली मे धनयोगः- आज के आधुनिक समय मे प्रत्येक मनुष्य धनवान बनने की…

12 जुलाई से शनि चलेंगे वक्री चाल, प्रत्येक लग्न पर प्रभाव?

मेष लग्न मे यह गोचर आपके लग्न से दशम भाव मेे होने जा रहा है। इस…