मन पर काबू पाने के ज्योतिषीय उपाय

इस संसार में जो व्यक्ति अपने मन पर काबू कर लेता है वह मृत्यु के बाद मोक्ष और भगवान को प्राप्त कर लेता है। ज्योतिष के अनुसार व्यक्ति के लिए उसका मन बेहद जरुरी है अगर कोई जातक मन से जुड़ी परेशानियों से ग्रस्त है तो वह अपने जीवन में खुश नही रह सकता है इसलिए मन को नियंत्रण में रखना बेहद जरुरी है।

कभी-कभी मन को बेचैन होना, मन न लगना आदि के लिए ग्रह जिम्मेदार होते हैं। ज्योतिष के अनुसार ग्रह दशा सही ना होने के कारण जातक का मन इधर-उधर भटकता है और बेचैन भी रहता है जिसके कारण व्यक्ति को जीवन में कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है।  

चन्द्रमा को मन एवं माता का कारक माना जाता है। यदि किसी जातक की कुण्डली में चन्द्रमा अपनी उच्च राशि, स्वराशि तथा शुभ स्थिति में हो तो माता का उत्तम सुख मिलता है। जबकि यही चन्द्रमा अशुभ अवस्था में हो तो माता के सुख से जातक वंचति रह जाता है। इसलिए किसी भी जातक की कुण्डली में चन्द्रमा बहुत महत्वपूर्ण होता है।

मन पर काबू पाने में ग्रहों का सम्बन्ध

बुध ग्रह भी जातक के मन को प्रभावित करता है।

वहीं कर्क, वृश्चिक और मीन राशि का सम्बन्ध भी मन से ही होता है।

जल राशि के लोगों का मन बहुत ही चंचल होता है। वह लोग बहुत ही ज्यादा संवेदनशील होते हैं।

आपको बता दें कि किसी जातक की कुण्डली का चतुर्थ और पंचम भाव भी मन से सम्बन्ध रखता है तथा कभी-कभी तिथियों और नक्षत्रों का भी मन पर असर पड़ता है।

READ ALSO   The Tenth House In Vedic Astrology
किस ग्रह के कारण जातक अपने मन पर काबू नही कर पाते हैं

☸ जब किसी जातक की कुण्डली में चन्द्रमा या बुध कमजोर हो जाता है तो मन स्थिर नही होता है।
☸ जब किसी जातक की कुण्डली में चन्द्रमा कमजोर होता है तो जातक अपने मन पर काबू नही कर पाता।
☸ साथ ही अगर बुध जातक की कुण्डली में कमजोर हो जाता है तो मन की स्थिति की परेशानी लम्बे समय तक जारी रहती है।
☸ यही कारण होता है कि केन्द्र में बैठे ग्रह काफी महत्वपूर्ण माने जाते हैं और जब केन्द्र का स्थान खाली होता है तो जातक की मानसिक स्थिति सही नही होती।

हाथ की रेखाओं का भी होता है मन पर असर

आपको बता दें कि जब किसी जातक के हाथ में बहुत सी रेखाओं का जाल हो यानि कई रेखा एक-दूसरे को काट रही हो तो जातक के मन में कई तरह की शंकाए, चिंताएं उत्पन्न होती हैं। ऐसे जातकों का मन काफी ज्यादा प्रभावित होता है क्योंकि यह अधिक नकारात्मक विचारों के बारे में सोचते हैं।

किन ग्रहों के कारण मन की स्थिति अच्छी बनी रहती है

☸ जब किसी जातक की कुण्डली में चन्द्रमा शुभ होता है तब जातक का मन मजबूत रहता है।
☸ अगर जातक की कुण्डली में बुध मजबूत होता हो और मन की स्थिति सही ना हो तो बुध ग्रह के कारण मन की अवस्था ठीक हो जाती है।
☸इसी के साथ कुण्डली के केन्द्र भाव में शुभ ग्रहों के होने पर जातक के जीवन को सकारात्मक ऊर्जा मिलती है।
☸आपको बता दें कि सकारात्मक ऊर्जा के कारण जातक का मन अच्छा रहता है और वह इधर-उधर भी नही भटकता है।
☸ साथ ही जातक इस ऊर्जा के कारण अपने मन पर काबू पा लेता है।
☸ अगर किसी जातक की कुण्डली में चन्द्रमा कमजोर हो तो बृहस्पति को मजबूत करने से चन्द्रमा की सारी परेशानियां दूर हो जाती हैं।
☸ इसी के साथ ध्यान या उचित मंत्र का जाप करने से भी मन की स्थिति अच्छी बनी रहती है।

READ ALSO   दिवाली विशेष उपाय होगी धन वर्षा
मन को मजबूत करने के उपाय

मन पर काबू पाने के लिए जातकों को नियमित रुप से सूर्य देव को जल देना चाहिए। अपने मन पर काबू पाने के लिए गायत्री मंत्र का सुबह और शाम जाप जरुर करें। आपको अपने आहार में सादा भोजन शामिल करना चाहिए। साथ ही अपने मन पर काबू पाने के लिए व्यक्ति को एकादशी का व्रत रखना चाहिए तथा आप किसी अनुभवी ज्योतिषी की सलाह से मोती या अन्य रत्न धारण करें। इसी के साथ आपको सोने से पहले कुछ समय के लिए भगवान को याद करना चाहिए।