ग्रहों से सम्बन्धित क्या-क्या कार्य होते है?

आइये जानते है कि सूर्य से सम्बन्धित आप कौन-कौन से व्यवसाय कर सकते हैः-सूर्यः- सरकारी कर्मचारी, रचयिता, स्वामी, समर्थक, प्रबन्धक, चिकित्सक, लकड़ी या इमारती लकडी, वन विभाग, प्रशासक, राजनीति में सक्रिय, ऊर्जा सम्बन्धी व्यवसाय तथा शासन।

आइये जानते है कि चन्द्रमा से सम्बन्धित आप कौन-कौन से व्यवसाय कर सकते हैः-
चन्द्रमाः- नमक, मस्तिष्क, मानसिक कार्य, तरल पदार्थ, अस्थिरता, परिवर्तन, समुद्र, दुग्ध उत्पाद, जलीय कार्य, सिंचाई विभाग, कपड़ा उद्योग, प्रसाविका, घी, दूध की डेयरी, नेवी, इंजीनियरिंग, हाइड्रोलिक पम्प से सम्बन्धित कार्य, कपास, चंदन से सम्बन्धित कार्य।

आइये जानते है कि मंगल से सम्बन्धित आप कौन-कौन से व्यवसाय कर सकते हैः-
मंगलः- अग्नि अभियांत्रिकी, भूमि, संचालन, हथियार और औजार, पुलिस, मिलिट्री चिकित्सा विभाग, भू-विज्ञान, रेल इंजन, ग्रन्थकार का प्राप्त अंश पेट्रोल पम्प, कुकिंग गैस, माचीस निर्माण, ज्वलनशील पदार्थ, फायर ब्रिक्स, ईट के भट्टे, ठेकेदारी, निर्माण, प्रापर्टी डिलिंग आदि।

आइये जानते है कि बुध से सम्बन्धित आप कौन-कौन से व्यवसाय कर सकते हैः-

 

बुधः- लेखाकार, मुनीम, लेखा-परीक्षक, प्रतिलिपिक, यात्री, लेखक, डाकिया, वाहन-चालक, व्यापारी, पंच, प्रबन्धक, कम्प्यूटर, समाचार-पत्र, छपाई, प्रकाशन, कोरियर से सम्बन्धित कार्य, सूचना विभाग (आई.टी.) कार्टेज, रचनात्मकता, कलात्मकता, अभिनय, संगीत विविध प्रकार की प्रतिभाएँ, गायन तथा प्रवचन कर विभाग, विविध कलाएं, रबर, नायलाॅन, टायर, सभी प्रकार के वाहन आदि।

आइये जानते है कि बृहस्पति से सम्बन्धित आप कौन-कौन से व्यवसाय कर सकते हैः-

बृहस्पतिः- बैंक कोषागार, आय तथा कर विभाग, धर्मार्थ तथा शिक्षा संसथान, अधिवक्ता, न्यायाधीश, मन्दिर, गिरजाघर, लेखा-परीक्षक, सम्पादक, परामर्शदाता, डाक विभाग, विज्ञापन, कृषि से सम्बन्धित सामग्री, बीज तथा उर्वरक आदि, होटल, पण्डित, पादरी, अध्यापन चिकित्सा, चिटफण्ड, प्रवचनकर्ता, ज्योतिषशास्त्र, वैध, अध्यात्म आदि।

आइये जानते है कि शुक्र से सम्बन्धित आप कौन-कौन से व्यवसाय कर सकते हैः-

शुक्रः- कलाकार, संगीतकार, दर्जी, इत्र, कवि, इमारतें, अभियन्ता, बुनकर, सज्जाकार, आभूषण, आयकर, चमडे़ का कार्य, बढ़ई, प्रतिष्ठा, अधिकार तथा  चाय, मदिरा से सम्बन्धित कार्य, रत्न, विक्रेता, स्वर्ण विक्रेता, असली-नकली आभूषण से सम्बन्धित कार्य, प्रसाधन सामग्री, प्लास्टिक, कागज, म्यूजिक सिस्टम, टी.वी., चलचित्र, अभिनय, नृत्य, संगीत आदि।

आइये जानते है कि शनि से सम्बन्धित आप कौन-कौन से व्यवसाय कर सकते हैः-
शनिः- लोहा, तेल, चमड़ा, दुर्लभ (एन्टीक) वस्तुएँ, तार, हार्डवेयर, एम्बेस्टस, शीट्स, गैल्वेनाइज्ड आयरन, जी.आई, पाईप, कास्ट आयरन, स्टेनलेस स्टील, राॅट आयरन, समस्त खनिज पदार्थ, कोयला, भूमि के भीतर पाये जाने वाली विभिन्न धातुएँ, नौकर भिक्षा आदि।

आइये जानते है कि राहु से सम्बन्धित आप कौन-कौन से व्यवसाय कर सकते हैः-
राहुः- राहु यदि बुध की राशि में स्थित हो तो यह श्रेष्ठ, विद्यावान, अधिवक्ता, अनुसन्धानकर्ता, सट्टेबाज, औषधि, विशेष प्रतिजीवाणु औषधि (एन्टीबायट्रिक्स), दूरसंचार, विद्युत, हवाई यात्रा आदि करता है।

आइये जानते है कि केतु से सम्बन्धित आप कौन-कौन से व्यवसाय कर सकते हैः-
केतुः- गुप्तचर विभाग कुटिल कार्य आदि कराता है। यह निर्भर करता है कि किस ग्रह की राशि में केतु स्थित है। केतु विद्युत के करेन्ट ऐसी स्थितियों को भी प्रदर्शित करता है। जिन्हें देखा नहीं जा सकता है।
राहु और केतु का फल उनके द्वारा अविष्ठित राशियों, संयुक्त ग्रह तथा उन पर विभिन्न ग्रहों की दृष्टि के आधार पर किया जाता है। जिसका विस्तृत उल्लेख हमने अन्यत्र किया है।

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.